ताज़ा खबर
 

Mumbai Bridge Collapse: हादसे के बाद पहली बड़ी कार्रवाई, BMC ने चीफ इंजीनियर समेत दो को निलंबित किया

Mumbai CST bridge collapse Today: एएनआई के जरिए मिली जानकारी के मुताबिक बीएमसी ने रिपोर्ट में माना है कि प्रथम दृष्ट्या स्ट्रक्चरल ऑडिट को घटना गैर-जिम्मेदार तरीके से तैयार की गई है।

Author Published on: March 15, 2019 7:27 PM
मुंबई फुट ओवर ब्रिज हादसा ( फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस )

Mumbai CST bridge collapse: ब्रिज हादसे के बाद ब्रहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने पहली बड़ी कार्रवाई करते हुए चीफ इंजीनियर एआर पाटिल और असिस्टेंट इंजीनियर एसएफ काकुल्टे को निलंबित कर दिया है। इसके साथ ही निगम ने प्राथमिक जांच रिपोर्ट में स्ट्रक्चर ऑडिट की नाकामी को हादसे का जिम्मेदार बताया गया है। गुरुवार की शाम 7 बजकर 30 मिनट पर हुए इस हादसे में तीन महिलाओं समेत छह लोगों की मौत हुई थी, वहीं करीब 31 लोग घायल हुए थे। घटना के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने घटनास्थल का दौरा कर शाम तक प्राथमिक जांच रिपोर्ट और दोषियों के नाम मांगे थे। इसके साथ ही उन्होंने कड़ी कार्रवाई का भी आश्वासन दिया था।

प्राथमिक जांच रिपोर्ट के मुताबिक, ‘स्ट्रक्चरल ऑडिट रिपोर्ट में अधिकारी यह बताने में संभावित घटना का अंदाजा लगाने में नाकाम रहे। ब्रिज की रिपोर्ट आने के बाद भी इस पर जनता के पैसे को बर्बाद किया जाता रहा औऱ वास्तविक हालत का पता नहीं लगाया गया। स्ट्रक्चरल रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाना चाहिए।’ एएनआई के जरिए मिली जानकारी के मुताबिक बीएमसी ने रिपोर्ट में माना है कि प्रथम दृष्ट्या स्ट्रक्चरल ऑडिट को घटना गैर-जिम्मेदार तरीके से तैयार की गई है। अगर यह रिपोर्ट ठीक से तैयार होती तो हादसे को टाला जा सकता था।

 

उल्लेखनीय है कि इस हादसे के बाद सियासत भी तेज हो गई थी। बीएमसी ने सिविक डिपार्टमेंट से प्राथमिक जांच रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा था। फिलहाल मा्मले में की विस्तृत जांच जारी है। चौंकाने वाली बात यह है कि पिछले ऑडिट में दिए गए खतरनाक घोषित किए गए पुलों में इस ब्रिज का नाम शामिल ही नहीं था। यह ब्रिज सीएसटी रेलवे स्टेशन को मुख्य सड़क से जोड़ता था

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories