ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी स्टाइल में ही लालू का पीएम पर वार, बोले- जो चौकीदार लूट कराए, उसे बदलना चाहिए कि नहीं चाहिए?

लालू प्रसाद यादव ने इससे पहले, सोमवार को भी पीएनबी घोटाले और पकौड़े बेचने की सलाह को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान पर तंज कसते हुए अपने ट्विटर हैंडल से लिखा था, "पकौड़ा लोन लेकर, थपौड़ा मार मोदी विदेश भागम भाग।"

Author पटना | February 20, 2018 8:36 PM
लालू प्रसाद यादव।(फाइल फोटो)

पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले को लेकर पक्ष और विपक्ष के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। चारा घोटाले के मामले में सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने भी मंगलवार को इस बैंकिंग घोटाले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। लालू ने प्रधानमंत्री के भाषण देने के अंदाज में ही बिना किसी के नाम लिए केंद्र सरकार और नरेंद्र मोदी को इस मामले में आरोपी बताते हुए ट्वीट किया, “भाइयों-बहनों, अगर आपके घर का चौकीदार अपने लुटेरों से आपके घर में ही चोरी-डकैती करवाने लगे तो उसे बदलना चाहिए कि नहीं? बोलिए बदलना चाहिए कि नहीं? बताओ मित्रों।”

लालू ने इससे पहले, सोमवार को भी पीएनबी घोटाले और पकौड़े बेचने की सलाह को लेकर प्रधानमंत्री मोदी के बयान पर तंज कसते हुए अपने ट्विटर हैंडल से लिखा था, “पकौड़ा लोन लेकर, थपौड़ा मार मोदी विदेश भागम भाग।” उल्लेखनीय है कि लालू इन दिनों रांची की एक जेल में बंद हैं। जेल जाने के पूर्व उन्होंने अपने समर्थकों और बिहार के लोगों से ट्विटर से संदेश भेजते रहने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि उनका ट्विटर उनके कार्यालय या परिवार के लोग संचालित करेंगे, जिससे उनका संदेश लोगों तक पहुंचता रहेगा। जेल में बंद लालू पहले भी ट्विटर के जरिए विरोधियों पर निशाना साधते रहे हैं।


वहीं दूसरी तरफ, फिच रेटिंग ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए 1.8 अरब डॉलर के घोटाले को देखते हुए बैंक की ‘बीबी’ व्यवहार्यता रेटिंग को ‘रेटिंग वॉच नकारात्मक’ में रखा है। एक आधिकारिक बयान में मंगलवार को यह जानकारी दी गई। फिच ने स्पष्ट किया है कि वह पीएनबी में हुए घोटाले के बाद बैंक की वित्तीय हालत की सही तस्वीर सामने आने के बाद ही ‘रेटिंग वॉच’ को लेकर फैसला करेगी।

फिच ने कहा, “इस मोड़ पर, फिच इस घटना का पीएनबी के सपोर्ट रेटिंग फ्लोर (बीबीबी माइनस) पर कोई प्रभाव नहीं देखती है, क्योंकि दूसरे सबसे बड़े सरकारी बैंक के रूप में इस बैंक का प्रणालीगत महत्व है। हमारा मानना है कि पीएनबी को असाधारण समर्थन प्रदान करने की सरकार की क्षमता अत्यधिक उच्च है, जो सॉवरिन योग्यता पर निर्भर है। भारत की सॉवरिन रेटिंग ‘बीबीबी माइनस’ है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App