ताज़ा खबर
 

बेटों ने मां संग मिल कर काटा लालू यादव का बर्थडे केक, टीवी पर देखते रहे राजद मुखिया

राष्‍ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू यादव का 71वां जन्‍मदिन 11 जून को मनाया गया। इस दौरान उनके बेटों तेजस्‍वी और तेज प्रताप यादव ने साथ मिलकर केक काटा। वहीं, लालू यादव समारोह स्‍थल से कुछ ही दूरी पर स्थित अपने घर में टीवी पर इसे देखा।

छोटे भाई तेजस्‍वी को केक खिलाते तेज प्रताप यादव। (फोटो सोर्स: एएनआई)

बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री और राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के सुप्रीमो लालू यादव का 11 जून को 71वां जन्‍मदिन मनाया गया। इस मौके पर लालू के दोनों बेटों तेजस्‍वी और तेज प्रताप यादव ने मां राबड़ी देवी की मौजूदगी में हरे रंग का केक काटकर पिता का जन्‍मदिन सेलिब्रेट किया। आरजेडी प्रमुख इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके। वह टीवी पर ही इसे देखते रहे। चारा घोटाला से जुड़े मामलों में दोषी करार लालू यादव इन दिनों स्‍वास्‍थ्‍य के आधार पर जेल से जमानत पर बाहर हैं, लेकिन वह सार्वजनिक तौर पर नहीं दिख सकते हैं। ‘एनडीटीवी’ के अनुसार, पटना में जिस जगह तेजस्‍वी के घर में लालू यादव के जन्‍मदिन का उत्‍सव मनाया जा रहा था, वहां से कुछ ही दूरी पर स्थित अपने घर में आरजेडी प्रमुख ठहरे हुए हैं। उनके अकेलेपन को बांटने के लिए टीवी के अलावा हाल में ही उनके समधि बने आरजेडी नेता चंद्रिका राय भी मौजूद थे। वह जल्‍द ही बेहतर इलाज के लिए मुंबई जाने वाले हैं।

लालू यादव के जन्‍मदिन पर आयोजित समारोह को तेजस्‍वी और तेज प्रताप के बीच एकजुटता दर्शाने के लिए भी इस्‍तेमाल किया गया। मीडिया में दोनों भाइयों के बीच तल्‍खी आने की बात कही गई थी, लेकिन तेजस्‍वी और तेज प्रताप ने एक साथ चाकू पकड़ कर लालू यादव के जन्‍मदिन का केक काटा। दोनों ने मीडिया को बताया कि आरजेडी में किसी भी तरह की दरार नहीं है और पार्टी पूरी तरह से एकजुट है। इससे पहले दोनों भाइयों ने परिवार में दरार की बात को सिरे से खारिज करते हुए कहा था कि विरोधी जानबूझकर इस तरह का अफवाह फैला रहा है। महागठबंधन की सरकार में तेजस्‍वी उपमुख्‍यमंत्री थे, जबकि तेज प्रताप बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री थे। लोकसभा चुनावों को देखते हुए तेजस्‍वी ही पार्टी का नेतृत्‍व कर रहे हैं। चुनावी गठजोड़ से जुड़े मुद्दे पर भी तेजस्‍वी ही फैसला कर रहे हैं। मालूम हो कि तेजस्‍वी की अगुआई में ही हाल में संपन्‍न हुए उपचुनाव लड़े गए थे। इसमें जीत का श्रेय भी लालू यादव के छोटे बेटे को ही दिया गया था। ऐसे में दोनों भाइयों के बीच पार्टी में प्रभुत्‍व को लेकर मनमुटाव की खबरें सामने आई थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App