ताज़ा खबर
 

‘नियम को ताक पर रख लालू कर रहे सियासी बैठकें- मुलाकातें’, झारखंड के जेल आईजी ने रांची डीसी को लिखी चिट्ठी, सियासी हड़कंप

चिट्ठी को लेकर बिहार में सियासी हड़कंप मच गया है। दरअसल जदयू ने इस मामले को हाथों हाथ लिया है और राजद और झारखंड के सीएम हेमंत सोरेने पर निशाना साधा है।

lalu prasad yadav jdu jharkhand ranchiराजद मुखिया लालू प्रसाद यादव पर आरोप है कि वह अस्पताल में ही राजनैतिक मुलाकात कर रहे हैं। (फाइल फोटो)

रांची के रिम्स में इलाजरत राजद मुखिया लालू प्रसाद यादव अस्पताल में ही सियासी बैठकें कर रहे हैं और लोगों से खूब मिल रहे हैं। जिसके खिलाफ झारखंड के जेल आईजी ने रांची के उपायुक्त को एक चिट्ठी लिखी है। अब इस चिट्ठी को लेकर बिहार में सियासी हड़कंप मच गया है। दरअसल जदयू ने इस मामले को हाथों हाथ लिया है और राजद और झारखंड के सीएम हेमंत सोरेने पर निशाना साधा है।

जदयू प्रवक्ता नीरज सिंह ने ट्वीट कर झारखंड के सीएम हेमंत सोरेने को संबोधित करते हुए लिखा है कि ‘देख लीजिए हेमंत सोरेन जी, आप कैदी नंबर 3351 की करतूतों पर पर्दा डालते रहे और आपके अधिकारी ने आपको आईना दिखा दिया। अब और कितना प्रमाण चाहिए आपको! सजायाफ्ता लालू प्रसाद के साथ न्याय कर उनको उनके कारनामे के अनुरूप उचित स्थान होटवार वास भेजिए।’

दैनिक जागरण की एक रिपोर्ट के अनुसार, राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के पास इन दिनों हर दिन सैंकड़ों बायोडाटा जमा हो रहे हैं। झारखंड जेल आईजी ने रांची उपायुक्त को लिखे पत्र में भी इस रिपोर्ट का जिक्र किया है। जेल आईजी ने चिट्ठी में लिखा है कि उच्च श्रेणी बंदी द्वारा अवैध रूप से मुलाकात की जा रही हैं, जो कि नियम विरुद्ध है। जेल आईजी ने लिखा है कि रांची के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रतिनियुक्त पुलिस पदाधिकारी द्वारा नियम विरुद्ध एवं मनमाने ढंग से बाहरी लोगों से मुलाकात करायी जा रही है।

बता दें कि लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले में सजा काट रहे हैं। खराब स्वास्थ्य के चलते बीते काफी समय से उनका इलाज रांची के रिम्स अस्पताल में चल रहा है। इसके लिए लालू यादव को रिम्स निदेशक के बंगले में रखा गया है। बिहार में चुनाव आने के साथ ही रिम्स निदेशक का यह बंगला राजद कार्यालय सरीखा बन गया है। दरअसल राजद से टिकट पाने की आस रखने वाले नेता इन दिनों बिहार से झारखंड के चक्कर लगा रहे हैं।

सभी जानते हैं कि राजद उम्मीदवारों की लिस्ट लालू यादव खुद फाइनल करेंगे। यही वजह है कि राजद नेताओं का रांची पहुंचना लगातार जारी है। स्थिति को देखते हुए बंगल के पास पुलिस की सुरक्षा और पेट्रोलिंग भी बढ़ा दी गई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शिवराज-नीतीश की राह पर अब गहलोत सरकार, सरकारी नौकरियों में लोकल को ही मौका देने की तैयारी
2 बिहार चुनाव: जीतनराम मांझी की घर वापसी से NDA में खलबली, सात सीटों पर दावेदारी से उलझन में बीजेपी
3 ‘एक भी सीट हारी बीजेपी तो कर दूंगा रिजाइन’, पहले गैर गुजराती भाजपा अध्यक्ष का दावा, जानें- कौन हैं चंद्रकांत पाटिल?
ये पढ़ा क्या?
X