ताज़ा खबर
 

‘रोज नमाज पढ़ते हो, राष्ट्रगान नहीं पता’, मजदूर से गालीगलौच और मारपीट, जबरन बुलवाया ‘भारत माता की जय’

युवक का कहना है कि ट्रेन में कुछ लोगों ने उसे अपनी सीट छोड़ने के लिए कहा। मैं अपनी सीट से हट गया लेकिन इसके बाद उन लोगों ने मुझसे प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री का नाम और देश का राष्ट्रगान पूछा।

पीड़ित युवक की पत्नी ने इस मामले में चार लोगों पर केस दर्ज कराया है।

पश्चिम बंगाल के माल्दा में एक मजदूर से चलती ट्रेन में मारपीट और गालीगलौच का मामला प्रकाश में आया है। माल्दा-हावड़ा पैसेंसर से यह मजदूर अपने घर वापस आ रहा था। तभी ट्रेन में मौजूद कुछ लोगों ने पहले उससे देश के प्रधानमंत्री का नाम पूछा और फिर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री का नाम। लेकिन जब वो गरीब मजदूर इन लोगों के नाम बताने में नाकाम हो गया तो चार लोगों ने पहले उसके साथ गालीगलौच की और फिर उसकी जम कर पिटाई कर दी।

यह घटना 14 मई की है। जानकारी के मुताबिक हावड़ा और बंदेल स्टेशन के बीच यह वाकया हुआ है। मजदूर युवक से कहा गया कि तुम रोज नमाज पढ़ते हो लेकिन तुम्हें प्रधानमंत्री का नाम नहीं बता। पीड़ित युवक का नाम जमाल मोमिन बतलाया जा रहा है। युवक का कहना है कि ट्रेन में कुछ लोगों ने उसे अपनी सीट छोड़ने के लिए कहा। मैं अपनी सीट से हट गया लेकिन इसके बाद उन लोगों ने मुझसे प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री का नाम और देश का राष्ट्रगान पूछा। जब जमाल इन सारे सवालों का जवाब नहीं दे पाया तो उससे पूछा गया कि नवाज शरीफ कौन हैं? जमाल इसका भी जवाब नहीं दे पाया।

इसके बाद इन लोगों ने जमाल से पूछा कि क्या तुम नमाज पढ़ते हो? जमाल ने इसका जवाब हां में दिया। इसके बाद इनलोगों ने जमाल से कहा कि तुम्हें शर्म आनी चाहिए तुम रोज नमाज पढ़ते हो लेकिन तुम्हें राष्ट्रगान नहीं मालूम। इन लोगों ने जमाल को जबरदस्ती भारत माता की जय बोलने पर मजबूर किया और फिर बंदेल स्टेशन पर उतर गए। ट्रेन में जमाल को इस तरह प्रताड़ित करने का यह वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हुआ था।

इस वीडियो के सामने आने के बाद बांग्ला संस्कृति मंच नाम की एक गैर सरकारी संस्था ने जमाल और उनकी पत्नी से संपर्क किया और फिर जमाल की पत्नी के जरिए इस मामले में थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई।इस पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। माल्दा के एसपी ने टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत करते हुए कहा कि किसी को भी किसी की बेइज्जती करने और उसे प्रताड़ित करने का हक नहीं है। पुलिस के मुताबिक युवकों की पहचान कर ली गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App