ताज़ा खबर
 

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केसः वर्णिका कुंडू से पांच घंटे में बराला के वकील ने पूछे पांच सौ सवाल

बचाव पक्ष के वकील ने वर्णिका से सवाल किया- जब वह चार अगस्त को ड्राइवर संग गाड़ी लेने सेक्टर 8 गईं थी तो फिर उनकी लोकेशन पंजाब की कैसे आ रही है ?

Author नई दिल्ली | January 9, 2018 12:23 PM
पीड़िता वर्णिका और हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष का आरोपी बेटा विकास बराला।

चंडीगढ़ के हाईप्रोफाइल छेड़खानी केस में क्रॉस एग्जामिनेशन का सिलसिला शुरू हो गया। जिला अदालत में मैराथन सुनवाई इस कदर हुई कि पीड़िता वर्णिका कुंडू को सिर्फ पांच घंटे में पांच सौ सवालों से गुजरना पड़ा। बचाव पक्ष के वकील ने ताबड़तोड़ सवाल कर वर्णिका के दावे को गलत साबित करने की कोशिश की वहीं वर्णिका अपनी बात से डिगीं नहीं। इस बहुचर्चित मामले में भाजपा के हरियाणा इकाई अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास मुख्य और उनका दोस्त आशीष सह आरोपी हैं। आरोप है कि पिछले साल चार अगस्त को  घटना की रात दोनों कार में सवार थे और वर्णिका की कार का पीछा करते उन्हें रोकने की कोशिश की थी। सोमवार को चंडीगढ़ की जिला अदालत में लंबी चली सुनवाई के दौरान आईएएस अफसर वीएस कुंडू की बेटी ने पूछताछ में बताया कि घटना से एक दिन पहले उनकी गाड़ी की चाबी टूट गई थी। वह सेक्टर-8 में गाड़ी छोड़कर चलीं गईं थीं। जब अगले दिन यानी चार अगस्त की रात वह 11.15 pm पर गाड़ी लेने सेक्टर 8 पहुंची तो उनके साथ छेड़खानी की घठना हुई। करीब एक घंटे तक भाजपा नेता के बेटे विकास बराला और उसके दोस्त कार का पीछा करते रहे।

बचाव पक्ष के वकील रबिंद्र पंडित ने कॉल डिटेल्स के हवाले से दावा किया कि घटना वाली रात चार अगस्त को घटना से पहले वर्णिका की टॉवर लोकेशन चमकौर साहिब (पंजाब) की आ रही है। वकील ने सवाल उछाला कि जब वह चार अगस्त को ड्राइवर संग गाड़ी लेने सेक्टर 8 गईं थी तो फिर उनकी लोकेशन पंजाब की कैसे आ रही है ? वकील ने सुबूत के तौर पर कथित कॉल डिटेल्स की बात कही। वर्णिका ने इसे खारिज करते हुए कहा कि वह कभी चमकौर साहिब गई ही नहीं। आरोपी के बचाव में उनके वकील ने वर्णिका की गवाही के दावों को झुठलाने की कोशिश की।

वर्णिका ने बताया कि केस दर्ज होने के दौरान पुलिस स्टेशन पर वकील राजदीप मौजूद रहे। राजदीप को उन्होंने अपना अपना चाचा बताया और कहा कि पिता ने उन्हें बुलाया था। बचाव पक्ष के वकील ने दावा किया कि वर्णिका के पिता और चाचा ने मिलकर शिकायत लिखी और फिर फर्जी हस्ताक्षर कराए। इस आरोप को कोर्ट में वर्णिका ने सिरे से खारिज किया। खास बात है कि बराला के वकील पंडित ने अपने नोट उर्दू में तैयार कर रखे थे, जिसे अभियोजन वकील मनु कक्कड़ पढ़ नहीं सकते थे।

कैसे-कैसे पूछे सवाल

तुम्हारा पसंदीदा म्यूजिक क्या है ?
डीजे में कौन सा म्यूजिक बजाती हो ?
क्या तुम्हे पता रहा कि तमाम लोकेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगे होते हैं ?
आपने कब पीसीआर को कॉल की ?
क्या अपनी मां को आपने घटना के बारे में बताया ?
क्या पुलिस स्टेशन में आपके और आपके पिता के साथ एक वकील मौजूद थे ?
तुम अपने फ्रेंड अभिनव कब से जानती हो और वह क्या करते हैं ?
क्या तुम्हारा मोबाइल रिकॉर्डिंग मोड पर था
पीसीआर गाड़ी किस तरफ आई ?

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App