ताज़ा खबर
 

Kumbh Mela 2019 : वसंत पंचमी पर 11 अखाड़ों ने किया शाही स्नान, दावा- 50 लाख श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी

Kumbh Mela 2019 Prayagraj (Allahabad): वसंत पंचमी पर कुंभ मेले में तीसरा शाही स्नान शुरू हो चुका है। इस दौरान सबसे पहले श्री पंचायती अखाड़ा महानिर्वाणी और श्री पंचायती अटल अखाड़ा के साधु-संतों ने सुबह 6:15 बजे संगम में डुबकी लगाई। प्रशासन का दावा है कि आज तीन करोड़ श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगाएंगे।

Author Updated: February 10, 2019 1:51 PM
Kumbh Mela 2019: कुंभ मेला, फोटो सोर्स- कुमार सम्भव जैन

Kumbh Mela 2019 : वसंत पंचमी पर कुंभ मेले में तीसरा शाही स्नान शुरू हो चुका है। इस दौरान सबसे पहले श्री पंचायती अखाड़ा महानिर्वाणी और श्री पंचायती अटल अखाड़ा के साधु-संतों ने सुबह 6:15 बजे संगम में डुबकी लगाई। इनके बाद श्री पंचायती निरंजनी अखाड़ा, तपोनिधि श्री पंचायती आनंद अखाड़ा के संन्यासियों ने 07:05 बजे शाही स्नान किया। वहीं, श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा, श्री पंच दशनाम आह्वान अखाड़ा और श्री शंभू पंच अग्नि अखाड़ा के साधु-संत सुबह 8 बजे शाही स्नान के लिए पहुंचे। दोपहर डेढ़ बजे तक 11 अखाड़ों के साधु-संत शाही स्नान कर चुके हैं। वहीं, प्रशासन का दावा है कि अब तक करीब 50 लाख श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगा चुके हैं।

सभी अखाड़ों को दिया गया 40 मिनट का समय : मेला प्रभारी विजय किरण आनंद के मुताबिक, सभी अखाड़ों को शाही स्नान के लिए 40-40 मिनट का समय दिया गया है। वहीं, श्रद्धालुओं की भीड़ को नियंत्रित करने के लिए 41 घाट बनाए गए हैं, जिससे लोगों को किसी भी तरह की दिक्कत न हो।

ऐसी है सुरक्षा व्यवस्था : मेला प्रशासन ने घाटों पर स्नान के लिए सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए हैं। इसके तहत पैरा मिलिट्री की 15 कंपनियां, आरएएफ, बीएसएफ, सीआरपीएफ, एसएसबी, आईटीबीपी और अन्य अर्धसैनिक बलों की 37 कंपनियां तैनात की गई हैं। साथ ही, एनडीआरएफ की 11 कंपनियां मुस्तैद हैं। होमगार्ड के 12 हजार जवानों को भी ड्यूटी पर लगाया गया है। 111 घुड़सवार पुलिस घाटों से लेकर संगम तक निगरानी कर रहे हैं।

वाहनों पर लगाई गई रोक : प्रयागराज में 9 फरवरी की रात 12 बजे से दोपहिया वाहनों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। इनके अलावा 11 फरवरी तक चार पहिया वाहन भी नहीं चलाए जा सकेंगे। मेला क्षेत्र में जरूरी वाहनों को छोड़कर अन्य वाहनों का प्रवेश वर्जित है। साथ ही, जिले में भारी कमर्शियल वाहनों का प्रवेश 12 फरवरी की रात 11 बजे तक प्रतिबंधित रहेगा।

अखाड़ों के शाही स्नान का समय : वसंत पंचमी पर सबसे पहले सुबह 6:15 बजे श्री पंचायती अखाड़ा महानिर्वाणी और श्री पंचायती अटल अखाड़ा के साधुओं ने संगम में डुबकी लगाई। इसके बाद 7:05 बजे श्री पंचायती निरंजनी अखाड़े और तपोनिधि श्री पंचायती आनंद अखाड़े के संन्यासियों ने शाही स्नान किया। 8 बजे का समय श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा, श्री पंच दशनाम आह्वान अखाड़ा और श्री शंभू पंच अग्नि अखाड़ा के लिए तय किया गया। 10:40 बजे अखिल भारतीय श्री पंच निर्वाणी अनी अखाड़े के संन्यासियों ने शाही स्नान किया। 11:20 बजे अखिल भारतीय श्री दिगंबर अनी अखाड़ा, 12:20 बजे अखिल भारतीय श्री पंच निर्मोही अनी अखाड़ा, 13:15 बजे श्री पंचायती अखाड़ा नया उदासीन संगम तट पर पहुंचे। 14:20 बजे श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन और 15:40 बजे श्री पंचायती अखाड़ा निर्मला के नागा साधु संगम में डुबकी लगाएंगे।

अब 2 प्रमुख स्नान बाकी : कुंभ मेले में 6 पवित्र स्नान का कार्यक्रम तय हुआ था, जिनमें 3 शाही स्नान थे। पहला शाही स्नान मकर संक्रांति पर 15 जनवरी को हुआ। दूसरा पवित्र स्नान 21 जनवरी को पौष पूर्णिमा पर आयोजित किया गया। 4 फरवरी को मौनी-सोमवती अमावस्या और महादेय योग के संगम पर दूसरा शाही स्नान हुआ। 10 फरवरी को वसंत पंचमी पर तीसरा शाही स्नान (कुल चौथा) हो रहा है। वहीं, 19 फरवरी को पांचवां स्नान माघ पूर्णिमा और 4 मार्च को छठा पवित्र स्नान महाशिवरात्रि पर होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 हैदराबाद: डॉक्टर्स की बड़ी लापरवाही, सर्जरी के बाद महिला के पेट में छोड़ी कैंची, जानें क्या है मामला
2 Kumbh Mela 2019: यूपी पुलिस का एक चेहरा ये भी, श्रद्धालुओं को परोसा चाय- नाश्ता, फोटोज VIRAL
3 कुतुब मीनार से भी ऊंचा बनेगा नोएडा का ये मंदिर, एक हजार लोगों के बैठने की होगी व्यवस्था