ताज़ा खबर
 

राजस्थान में आप कैडर्स से बोले कुमार विश्वास- दिल्ली के किसी नेता की यहां नहीं चलेगी, जो आप चाहेंगे वही होगा

कुमार विश्वास ने कहा कि किसी दिल्ली के व्यक्ति का कोई फोटो व्हॉट्सएप ग्रुप, फेसबुक, ट्विटर पर नहीं लगेगा।

कुमार विश्वास । (File Photo)

आम आदमी पार्टी राजस्थान में विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। आम आदमी पार्टी के राजस्थान के प्रभारी कुमार विश्वास ने आप कैडर्स से कहा कि राजस्थान में दिल्ली के किसी नेता की नहीं चलेगी। जो राजस्थान के कार्यकर्ता चाहेंगे वही होगा। कुमार विश्वास ने कहा कि इतिहास का मतलब ये है कि आप उससे सबक लें। आम आदमी पार्टी राजस्थान में अपना पहला चुनाव लडे़गी। अगर मुझे पार्टी ने कहा है कि आप प्रभार संभालिए तो शत प्रतिशत दिल्ली के वर्चस्ववाद से बाहर होगा। इसके बाद उन्होंने दिल्ली के वर्चस्ववाद का मतलब समझाते हुए कहा कि दिल्ली के वर्चस्ववाद का मतलब है कि 200 सीटें हैं, हर सीट पर एक पर्यवेक्षक दिल्ली से या देश भर का वो पुराना साथी जिसे चुनाव लड़ने का अभ्यास हो, जिसे चुनाव की रणनीति पता हो, जिसे पार्टी के चाल चलन के बारे में पता हो, जो वहां जाकर वहां के साथियों से संवाद कर सके।

वो रहेगा लेकिन आज ही में पहली अनुशंसा ये देता हूं और इसे आपको स्वीकार करना ही पड़ेगा अपने प्रभारी के इस आग्रह के नाम पर। अब से ही कुमार विश्वास से लेकर दिल्ली से जो विधानसभा का पर्यवेक्षक बनाया जाएगा उस तक किसी दिल्ली के व्यक्ति का कोई फोटो व्हॉट्सएप ग्रुप पर फेसबुक पर ट्विटर पर नहीं लगेगा। कहीं नहीं लगेगा। आप बैठक करेंगे कोई जरूरत नहीं है मेरा फोटो लगाने की। इस पार्टी के बनने से पहले लाखों पोस्टर लगते रहे हैं। आज भी लगते हैं कोई दिक्कत नहीं है। जिसको अपना नाम बनाना है बना लेगा लेकिन संगठन में हम लोग इसलिए नहीं हैं कि हमारे नामों पर चीजें की जाएं।

जब रैली करेंगे भाषण देने के लिए मुझे कहेंगे किसी हमारे दूसरे बड़े नेता को कहेंगे सबका पोस्टर लगाइये। अगर मेरे नाम से उस रैली में 5000 युवाओं को आप ला पाते हैं तो इसका पूरा उपयोग कीजिए। आप वॉइस ले जाइए, वीडियो ले जाइए अपील करवाइये। सब कुछ कीजिए। लेकिन पार्टी के संगठनात्मक कार्यक्रमो के लिए व्हॉट्एप ग्रुप, फेसबुक, ट्विटर, पोस्टर, बैनर, बिल्ला झंडा पर किसी का फोटो नहीं लगेगा और यह बात राजस्थान का प्रभार शुरू होते समय ही शुरू हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App