ताज़ा खबर
 

कुमार विश्वास ने बोला तूफान के बहाने पुराने साथियों पर हमला! लिखा- हम तो डरने से रहे

कुछ समय पहले अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से ड्रग्स के आरोपों को लेकर माफी मांगी थी। इस पर कुमार विश्वास ने ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा था।

कुमार विश्वास ।(image source-Twitter)

देशभर में तूफान और आंधी को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। सावधानीवश कई स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं और लोगों को सावधानी बरतने का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं कुमार विश्वास ने इस तूफान के बहाने अपने ‘पुराने साथियों’ पर हमला बोला है। कुमार विश्वास ने ट्वीट कर लिखा कि ‘हमारे दोस्तों ने झौंकी है आंखों में धूल बहुत, हम तो इस धूल के तूफान से डरने से रहे।’ माना जा रहा है कि कुमार विश्वास का यह इशारा आम आदमी पार्टी के उनके साथियों पर है। बता दें कि कुमार विश्वास इन दिनों आम आदमी पार्टी में हाशिए पर चल रहे हैं। यही वजह है कि वह आए दिन अरविंद केजरीवाल और अन्य आप नेताओं पर निशाना साधते रहते हैं। कुछ समय पहले अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में शिरोमणि अकाली दल के नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से ड्रग्स के आरोपों को लेकर माफी मांगी थी। इस पर कुमार विश्वास ने ट्वीट कर अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा था।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Gold
    ₹ 25900 MRP ₹ 29500 -12%
    ₹3750 Cashback
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 13975 MRP ₹ 16999 -18%
    ₹2000 Cashback

विश्वास ने अपने उस ट्वीट में लिखा था कि ‘एकता बांटने में माहिर है, खुद की जड़ काटने में माहिर है, हम क्या उस शख्स पर थूकें, जो खुद थूक कर चाटने में माहिर है।’ उल्लेखनीय है कि कुमार विश्वास लंबे समय से आम आदमी पार्टी में उपेक्षा के शिकार चल रहे थे, लेकिन हाल ही में हुए राज्यसभा चुनावों के दौरान कुमार विश्वास और पार्टी के बीच की नाराजगी खुलकर सामने आ गई। आम आदमी पार्टी ने संजय सिंह, सुशील गुप्ता और एनडी गुप्ता को राज्यसभा के लिए नामित किया था, जिसके बाद कुमार विश्वास ने खुलेआम पार्टी के इस फैसले पर सवाल उठाए थे। पत्रकारों से बात करते हुए कुमार विश्वास ने कहा था कि उन्होंने हमेशा सच बोला है, चाहे वो अरविंद केजरीवाल का कोई फैसला हो या फिर सर्जिकल स्ट्राइक, टिकट वितरण में होने वाली धांधली हो या फिर पंजाब के कट्टरपंथियों के प्रति सौम्य व्यवहार या फिर जेएनयू विवाद, लेकिन मुझे हर बार इसकी सजा दी गई। वह आप कार्यकर्ताओं को बधाई देना चाहते हैं कि उनकी बात सुनी गई और ‘महान क्रांतिकारियों’ को राज्यसभा के लिए चुना गया है।

पार्टी के खिलाफ खुलकर बोलने के कारण कुमार विश्वास को पार्टी नेतृत्व से दरकिनार कर दिया गया है और राजस्थान प्रभारी के पद से भी उन्हें हटा दिया गया है। इसी बीच एक खबर आयी है कि कुमार विश्वास को भारतीय जनता पार्टी राज्यसभा के लिए मनोनीत कर सकती है। एशियन एज की एक खबर के अनुसार, भाजपा के ही एक नेता ने इसका खुलासा किया है। कुमार विश्वास को साहित्य के क्षेत्र में हासिल की गई उपलब्धियों के लिए राज्यसभा में मनोनीत किए जाने की चर्चा है। हालांकि कुमार विश्वास भाजपा की सदस्यता ग्रहण करेंगे या नहीं यह फैसला कुमार विश्वास पर ही छोड़ दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App