ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल : ममता बनर्जी का दावा, हमने महारैली की तो पीएम मोदी ने सीबीआई से कहा- ‘कुछ तो करो’

शारदा चिटफंड मामले में सीबीआई की एंट्री के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का घेराव शुरू कर दिया है। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदी ने सीबीआई से कहा है कि कुछ तो करो।’’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। (Photo: PTI)

शारदा चिटफंड मामले में सीबीआई की एंट्री के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का घेराव शुरू कर दिया है। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदी ने सीबीआई से कहा है कि कुछ तो करो।’’ बता दें कि शारदा चिटफंड मामले में जांच के लिए सीबीआई के अधिकारी रविवार शाम कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के घर तक पहुंचे थे। इसके सीएम ममता बनर्जी पुलिस फोर्स के साथ राजीव कुमार के घर पहुंच गईं। गौरतलब है कि ममता बनर्जी राजीव कुमार को देश का सबसे अच्छा पुलिस ऑफिसर बता चुकी हैं। उन्होंने ट्वीट करके बीजेपी पर विवाद करने का आरोप भी लगाया।

ममता ने लगाया यह आरोप : ममता बनर्जी ने कहा, ‘‘बिना वॉरंट एक पुलिस कमिश्नर के घर आने की आपकी हिम्मत कैसे हुई? अपने अफसरों को बचाना मेरा कर्तव्य है।’’ वहीं, सीबीआई के जॉइंट डायरेक्टर पंकज श्रीवास्तव का कहना है कि सीबीआई के अफसरों को किसी आदेश या वॉरंट की जरूरत नहीं है, क्योंकि यह जांच सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हो रही है।

डोभाल पर भी साधा निशाना : ममता ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल पर आरोप लगाया, ‘‘जो भी प्रधानमंत्री चाहते हैं, वह डोभाल करते हैं। वे खुद सीबीआई को निर्देश दे रहे हैं। उन्होंने सीबीआई अधिकारियों को तलब किया और कहा कि कुछ तो करो, कुछ तो करो। बीजेपी एक चोर पार्टी है, हम नहीं। चिटफंड मामले में जो वे चाहते हैं, कर रहे हैं। हम उनमें से हैं, जिन्होंने इस मामले को अंजाम देने वालों को गिरफ्तार किया।’’

CBI-Kolkata police face off LIVE: ममता बनर्जी का ‘संविधान बचाओ’ धरना जारी, आज सुप्रीम कोर्ट जाएगी सीबीआई

आज सुप्रीम कोर्ट जाएगी सीबीआई : सीबीआई के अंतरिम डायरेक्टर एम नागेश्वर राव का कहना है, ‘‘पश्चिम बंगाल पुलिस हमारी मदद नहीं कर रही है। ऐसे में हम सोमवार को सुप्रीम कोर्ट जाएंगे।’’ वहीं, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी ने दावा किया कि बीजेपी विरोधी पार्टियों के साथ रैली करने की वजह से हम पर निशाना साधा जा रहा है। ऐसे में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री रविवार रात सेंट्रल कोलकाता के मेट्रो चैनल एरिया में धरने पर बैठ गईं। उन्होंने कहा कि यह कदम संविधान को बचाने के लिए उठाया जा रहा है। बता दें कि पिछले महीने ममता ने करीब 20 विरोधी पार्टियों के दिग्गज नेताओं के साथ महारैली का आयोजन किया था। इस दौरान आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन की घोषणा की गई थी।

यह है मामला : सीबीआई के सूत्रों का कहना है कि राजीव कुमार 2013 के दौरान पश्चिम बंगाल में हुए शारदा और रोज वैली चिटफंड फ्रॉड की जांच कर रही टीम के प्रमुख थे। इस मामले के कई महत्वपूर्ण कागजात खो गए हैं। ऐसे में राजीव से मदद मांगी जा रही है। पिछले 2 साल में राजीव कुमार को कई बार तलब किया गया, लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App