ताज़ा खबर
 

दुर्गा पूजा में नुसरत जहां ने लिया ‘सिंदूर खेला’ में हिस्सा, विवाद होने पर बोलीं- मैं गॉड की स्पेशल चाइल्ड

TMC MP Nusrat Jahan: दुर्गापूजा में जाने के बाद नुसरत जहां ने सिंदूर खेला में हिस्सा लिया। उन्होंने कहा कि मैं भगवान की स्पेशल चाइल्ड हूं और मैं सभी त्यौहार मनाती हूं।

TMC सांसद नुसरत जहां, फोटो सोर्स- एएनआई

पश्चिम बंगाल से तृणमूल कांग्रेस (TMC) की युवा सांसद और बांग्ला फिल्मों की एक्ट्रेस एक्ट्रेस नुसरत जहां आजकल सुर्खियों में हैं। इस बार उन्होंने दुर्गापूजा मंडप में ‘सिंदूर खेला’ में हिस्सा लेकर अपने विरोधियों को जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि मैं भगवान की संतान हूं और सभी सभी त्योहार मनाती हूं। नुसरत के मुताबिक विवाद उनके लिए कोई मायने नहीं रखता है। गौरतलब है कि बीते दिनों जब टीएमसी सांसद दुर्गा पूजा में शामिल हुई थीं तो देवबंद के उलेमाओं ने सवाल खड़े किए थे।

क्या बोलीं नुसरत जहां: दरअसल, सांसद नुसरत जहां चलता बागान दुर्गापूजा पंडाल में ‘सिंदूर खेला’ में हिस्सा लेने पहुंची थी। इस दौरान उनके पति निखिल जैन भी मौजूद थे। इस बीच पत्रकारों ने जब उनसे दुर्गापूजा में हिस्सा लेने पर सवाल किया तो उन्होंने कहा, “मैं भगवान की विशेष संतान हूं। मैं सभी त्यौहार मनाती हूं। मैं मानवता को और किसी भी चीज से ज्यादा प्यार करती हूं। मैं बहुत खुश हूं, विवाद मेरे लिए कोई मायने नहीं रखते।”
National Hindi News, 11 October 2019 Top Headlines Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

दुर्गा पूजा में जाने पर हुआ था विवाद: बता दें कि नुसरत ने जब दुर्गा पूजा में हिस्सा लिया था तो कुछ मौलानाओं ने इसपर आपत्ति जताई थी। गौरतलब है कि सांसद बनने के बाद से नुसरत का विवादों से नाता रहा है। फिर चाहे सिंदूर-बिंदी लगाकर संसद भवन में जाना हो या फिर दुर्गा पूजा में भाग लेना।

देवबंद ने जताई थी आपत्ति: बीते दिन नुसरत जहां के दुर्गा पूजा कार्यक्रमों में शामिल होने पर देवबंद के उलेमाओं ने कहा था कि वह लगातार ऐसी इस्लाम के खिलाफ कार्य कर रही हैं ऐसे में अगर उन्हें यही करना है तो अपना नाम बदल सकती हैं।

Next Stories
1 UP: सड़क किनारे सो रहे श्रद्धालुओं को बस ने रौंदा, एक ही परिवार के 7 लोगों की दर्दनाक मौत
2 Amitabh Bachchan Birthday: संगमवासियों ने अनूठे तरीके से मनाया अपने ‘मुन्ना’ का जन्मदिन, हवन-पूजन कर की लंबी उम्र की कामना
ये पढ़ा क्या?
X