ताज़ा खबर
 

कोल्‍हापुर में लहराएगा देश का दूसरा सबसे बड़ा तिरंगा, 300 फुट की ऊंचाई पर फहरेगा राष्‍ट्रीय ध्‍वज

महाराष्ट्र स्थित कोल्हापुर शहर में तिरंगा फहराने के लिए जल्द ही 300 फुट लंबा ध्वज स्तंभ निर्मित होगा जो देश में ‘‘दूसरा सबसे बड़ा’’ ध्वज स्तंभ होगा।

Author Updated: March 28, 2017 1:24 PM
महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने यह कहते हुए इसकी पुष्टि की कि कोल्हापुर में ध्वज स्तंभ के लिए राजस्व और गृह विभागों से सभी जरूरी अनुमति ले ली गई है। (सांकेतिक फोटो)

पश्चिमी महाराष्ट्र स्थित कोल्हापुर शहर में तिरंगा फहराने के लिए जल्द ही 300 फुट लंबा ध्वज स्तंभ निर्मित होगा जो देश में ‘‘दूसरा सबसे बड़ा’’ ध्वज स्तंभ होगा। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के एक मई को महाराष्ट्र राज्य की स्थापना दिवस के दिन ध्वारोहण कार्यक्रम में हिस्सा लेने की उम्मीद है। पुलिस अधिकारी ने तैयारी का जायजा लेने के लिए हाल में कोल्हापुर का दौरा किया। अधिकारी ने कहा, ‘‘यह ध्वज स्तंभ देश में दूसरा सबसे बड़ा ध्वज स्तंभ होगा।’’बताया जाता है कि 360 फुट का देश के सबसे ऊंचे ध्वज स्तंभ का उद्घाटन भारत-पाकिस्तान सीमा पर छह मार्च को हुआ था। उक्त स्थान पाकिस्तान से कुछ ही दूरी पर है।

महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने यह कहते हुए इसकी पुष्टि की कि कोल्हापुर में ध्वज स्तंभ के लिए राजस्व और गृह विभागों से सभी जरूरी अनुमति ले ली गई है। ध्वज स्तंभ पुलिस अधीक्षक मुख्यालय के सामने स्थित पुलिस गार्डन में लगाया जाएगा। पंजीकृत ट्रस्ट कोल्हापुर स्ट्रीट ब्यूटीफिकेशन प्रोजेक्ट ध्वज स्तंभ लगाएगा। चंद्रकांत पाटिल ने इसके बारे में पीटीआई से कहा, ‘‘यह अच्छी बात है कि कुछ सकारात्मक चीज के लिए कोल्हापुर पर सबका ध्यान जाएगा। ध्वज स्तंभ और पुलिस गार्डन का विकास एक स्थानीय ट्रस्ट द्वारा किया जा रहा है इसलिए इस कार्य और उसकी देखरेख को लेकर राज्य पर कोई बोझ नहीं पड़ेगा।’’

बता दें कुछ समय पहले भारत -पाक अंतरराष्ट्रीय सड़क सीमा अटारी पर 110 मीटर का तिरंगा झंडा फहराया गया था। इस झंडे का वजन लगभग 55 टन था। झंडे के इस प्रोजेक्ट में करीब 3.50 करोड़ रुपए का खर्च आया था। इस झंडे को पंजाब के स्थानीय निकाय मंत्री अनिल जोशी ने फहराया था। इसकी खास जानकारी देते हुए जोशी ने कहा कि अटारी बॉर्डर पर देश का सबसे ऊंचा 110 मीटर का तिरंगा लहराया गया है, जो कि देश वासिओं और जवानों के जज्बे को दोगुना करेगा। यह दुनिया का 10वां सबसे ऊंचा झंडा था।

इस ध्वज पर पाकिस्तान की ओर से आपत्ति उठाई गई थी। पाकिस्तान का कहना था कि ध्वज से भारत उन पर जासूसी कर रहा है। पाकिस्तान के कई नेताओं आधारहीन बयान आए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 योगी आदित्‍य नाथ के गुरुभाई थे गुजरात में जन्‍मे मुस्लिम गुल मोहम्‍मद पठान उर्फ महंत गुलाबनाथ, अंत समय तक बना रहा करीबी नाता
2 जम्मू-कश्मीर: बडगाम जिले में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, दो लोगों की मौत, 17 घायल