ताज़ा खबर
 

बीजेपी के निलंबित सांसद कीर्ति आजाद की पत्नी पूनम ने AAP को छोड़ थामा कांग्रेस का हाथ

भारतीय जनता पार्टी के निलंबित सांसद कीर्ति आजाद झा की पत्नी पूनम आजाद झा मंगलवार को आम आदमी पार्टी (आप) छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गईं हैं।

Author नई दिल्ली | April 11, 2017 4:46 PM
भारतीय जनता पार्टी के निलंबित सांसद कीर्ति आजाद झा की पत्नी पूनम आजाद

भारतीय जनता पार्टी के निलंबित सांसद कीर्ति आजाद झा की पत्नी पूनम आजाद झा मंगलवार को आम आदमी पार्टी (आप) छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गईं हैं। वह पांच महीने पहले आप में शामिल हुई थीं। दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने एक संवाददाता सम्मेलन में पूनम के पार्टी में शामिल होने की घोषणा की। उनके साथ पूनम भी थीं। माकन ने कहा, “वह अपने दोस्तों समेत आप छोड़कर आईं हैं और हमने कांग्रेस में उन्हें एक नई जिम्मेदारी दी है। कांग्रेस नेता ने कहा, “हम उनको आश्वासन देना चाहते हैं कि हम पूर्वाचल और मिथिलांचल के मुद्दे उठाते रहेंगे। माकन ने कहा, “हमें उम्मीद है कि वह कांग्रेस में पूर्वाचल और मिथिलांचल की आवाज होंगी।”

पूनम नवंबर में भाजपा छोड़कर आप में शामिल हो गई थीं। वह लंबे समय तक भाजपा प्रवक्ता और पार्टी की दिल्ली इकाई की उपाध्यक्ष रह चुकी हैं। बिहार के दरभंगा से सांसद उनके पति कीर्ति आजाद को दिल्ली जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में कथित भ्रष्टाचार के मामले में वित्त मंत्री अरुण जेटली पर सार्वजनिक रूप से निशाना साधने के बाद 2015 में भाजपा से निलंबित कर दिया गया था।

बता दें कि इससे पहले फरबरी में खबर आई थी कि पूनम का ‘आप’ का दामन छोड़ने का फैसला अनायास नहीं लिया गया, इसके पीछे करीब एक साल से घट रहा घटनाक्रम है। डीडीसीए में भ्रष्‍टाचार को लेकर भाजपा के वरिष्‍ठ नेता व वर्तमान वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ कीर्ति आजाद ने कैसे मोर्चा खोला था, यह सबको याद होगा। इसक बाद के घटनाक्रम ने पूनम को भी भाजपा से दूर कर दिया। दरअसल सितंबर 2015 में पूनम ने कहा था कि उन्‍हें सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के एक अधिकारी ने उन्‍हें नवंबर 2015 में सेंसर बोर्ड के सलाहकार पैनल का सदस्‍य बनने के लिए आमंत्रित किया है। हालांकि 24 नवंबर का मंत्रालय द्वारा जारी की गई नोटिफिकेशन में 108 नाम थे, लेकिन पूनम आजाद का नाम लिस्‍ट में नहीं था। उस समय अरुण जेटली के पास सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अतरिक्‍त कार्यभार था। चर्चा जोरों पर थी कि कीर्ति आजाद के विरोध का जवाब देने के लिए जेटली ने पूनम का नाम काट दिया। तब द हिंदू से बातचीत में पूनम झा आजाद ने कहा था, ”मेरी श्री जेटली के साथ समीकरण ठीक नहीं हैं और पूर्व में दिल्‍ली और फिर बिहार में चुनाव लड़ने के लिए टिकट की मांग खारिज कर दी गई, जबकि मैं आसानी से पूर्वांचल का सबसे जाना-पहचाना चेहरा हूं। मैं जेटली के मंत्रालय से मिले इस ऑफिसर से चौंक गई हूं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App