यूपी चुनावः 100% में 60% वोट हमारा, 40% में बंटवारा, जिसमें भी हमारा है- डिप्टी CM का दावा

बीजेपी नेता और उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या आगामी विधानसभा चुनावों में जीत को लेकर बेहद आश्वस्त नजर आए।

Keshav Prasad Maurya
केशव प्रसाद मौर्या का दावा है कि इस बार उत्तर प्रदेश में फिर से बीजेपी की सरकार बनेगी। Photo Source- Indian Express

उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए सियासी बयानबाजियों का दौर तेज हो चला है। सभी पार्टियां अपनी जीत का दावा कर रही हैं। इसी कड़ी में बीजेपी नेता और उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या आगामी विधानसभा चुनावों में जीत को लेकर बेहद आश्वस्त नजर आए। उन्होंने जीत के समीकरण को समझाते हुए कहा कि 100 में से 60 फीसदी वोटर हमारे हैं, 40 प्रतिशत में सबका हिस्सा है, और इस हिस्से में भी कुछ प्रतिशत हमारा है। आजतक के कार्यक्रम पंचायत उत्तर प्रदेश में एंकर अंजना ओम कश्यप को अपनी जीत का मंत्र बताते हुए उन्होंने यह बात कही।

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद ने कहा कि जनता के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का कारण है कि हमें उनका भरपूर समर्थन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि चाहे केंद्र की मोदी सरकार हो या प्रदेश की योगी सरकार। जनहित के प्रति प्रतिबद्धता के चलते आज 100 में से 60 प्रतिशत वोट हमारा है, 40 प्रतिशत वोटों में सबका बंटवारा है और इस 40 फीसदी हिस्से में हमारा भी हिस्सा है।

केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार शानदार ढंग से काम कर रही है। विपक्ष मुद्दा विहिन है। सीएम योगी के नेतृत्व में सरकार ने अब तक शानदार काम किया है और आने वाले समय में भी शानदार काम ही करेंगे। उन्होंने सीएम योगी के नाम पर किसी भी सवाल को खारिज करते हुए कहा कि योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में पांच साल काम किया है, विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है इसलिए वह इस तरह की बातें करती है।

भारतीय जनता पार्टी इन दिनों उत्तर प्रदेश में चुनाव की तैयारियों में युद्ध स्तर पर जुटी हुई हैं। सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ पार्टी आलाकमान के साथ राज्य में दूसरी बार सरकार बनाने की तैयारी कर रहे हैं। इसी कड़ी में पीएम मोदी उज्ज्वला 2 योजना को लॉन्च करने के लिए 10 अगस्त को उत्तर प्रदेश में होंगे। इससे पहले अमित शाह पिछले दिनों पूर्वांचल के अलग अलग शहरों में योजनाओं का शिलान्यास करने पहुंचे थे।

इधर समाजवादी पार्टी और बसपा भी जोर-शोर से तैयारियों में जुटा हुआ है। अखिलेश यादव ने गुरुवार को लखनऊ में साइकिल रैली निकाली जिसमें बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। वह अपने साथ कुछ औऱ पार्टियों को साथ लाने की कोशिश में लगे हुए हैं तो वहीं दूसरी तरफ मायावती एकला चलो की रणनीति के तहत अपने वोट बैंक को साधने में जुटी हुई है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट