ताज़ा खबर
 

केरल: पुलिस हिरासत में युवक की मौत, सार्वजनिक स्थल पर शराब पीने के आरोप में पकड़ा था

पुलिस को वहां देखकर संदीप, एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर और अन्य चार लोग भागने की कोशिश करने लगे।

परिजनों का कहना है कि गिरफ्तारी के बाद थाने ले जाते समय पुलिस ने गाड़ी में संदीप को बहुत यातना दी जिसकी वजह से उसकी मौत हुई। (Photo Source: Facebook)

केरल के कासरगोड कोतवाली क्षेत्र में हिरासत में लिए गए युवक की मौत हो गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस 28 साल के युवक को सार्वजनिक स्थल पर शराब पीने के जुर्म में पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इस लड़के का नाम संदीप है। कोतवाली के एसआई अजीथ कुमार ने बताया कि हमें खबर मिली थी कि बीरिनथवयाल में अनाज के बीजों के एक फार्म के पास कुछ लोगों के शराब पीने की शिकायत मिली। इसके बाद हमारी एक टीम मौके पर पहुंची। पुलिस को वहां देखकर संदीप, एक ऑटो रिक्शा ड्राइवर और अन्य चार लोग भागने की कोशिश करने लगे। इसी बीच हमरी टीम ने सबको गिरफ्तार किया और उन्हें थाने ले आई। थाने लाने के बाद संदीप को दिल का दौरा पड़ गया। उसे तुरंत ही पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

एक तरफ पुलिस संदीप की मौत दौरा पड़ने के कारण बता रही है, वहीं संदीप के परिजनों का कहना है कि उसकी मौत दौरा पड़ने से नहीं बल्कि पुलिस द्वारा यातना देने के कारण हुई है। परिजनों का कहना है कि गिरफ्तारी के बाद थाने ले जाते समय पुलिस ने गाड़ी में संदीप को बहुत यातनाएं दी जिसकी वजह से उसकी मौत हुई। इसके बाद इस मामले पर राजनीति गरमा गई। बीजेपी के स्थानीय नेता ने इस मुद्दे को लेकर कासरगोड विधानसभा क्षेत्र में विरोध प्रदर्शन किया।

हाल ही में इस प्रकार का एक मामला कोझिकोड में सामने आया था जहां पर हिरासत में लिए गए युवक की पुलिस ने बहुत पिटाई की, जिसके बाद युवक को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने 32 वर्षीय श्रीनाथ को कोझिकोड के एक मोहल्ले में हुए झगड़े के आरोप में पकड़ा था। पुलिस वैसे तो श्रीनाथ के भाई को पकड़ने के लिए गई थी लेकिन वह नहीं मिला तो पुलिस श्रीनाथ को पकड़कर ले गई। हिरासत में पुलिस ने श्रीनाथ को इतनी यातनाएं दी कि उसकी हालत खराब हो गई।

देखिए वीडियो - केरल: मॉरल पुलिसिंग से प्रताड़ित युवक ने की आत्महत्या, वेलेंटाइन डे के दिन की गई थी मारपीट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App