ताज़ा खबर
 

केरल: पादरी द्वारा नाबालिग के बलात्कार का मामला, पांच ननों सहित आठ के ख़िलाफ़ मामला दर्ज

चाइल्डलाइन में पीड़िता की मां द्वारा दर्ज करायी गयी एक शिकायत के आधार पर 28 फरवरी को पादरी को गिरफ्तार किया गया था।

Author कन्नूर (केरल) | Updated: March 4, 2017 5:24 PM
स्कूल टीचर ने नाबालिग छात्रा को हवस का शिकार बनाने की कोशिश की। (Representative Image)

जिले में एक चर्च के पादरी द्वारा एक लड़की के साथ कथित बलात्कार की घटना से जुड़े तथ्यों को छुपाने के लिए पांच नन सहित आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मामले के जांच अधिकारी पेरावूर सर्किल के निरीक्षक सुनील कुमार ने शनिवार (4 मार्च) को बताया कि जिले के कुतुपरम्बा स्थित निजी अस्पताल के प्रभारी और पांच नन के अलावा दो अन्य लोगों के खिलाफ पोक्सो अधिनियम की गैर जमानती धाराओं और किशोर न्याय अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। इस अस्पताल में 16 साल की एक लड़की ने गत सात फरवरी को एक लड़के को जन्म दिया था। उन्होंने बताया कि मामले में तथ्य छुपाने को लेकर वायनाड जिले की बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष और एक सदस्य के खिलाफ राज्य बाल अधिकार सुरक्षा आयोग और कन्नूर जिला पुलिस अधीक्षक को एक रिपोर्ट भी सौंपी गयी है।

रिपोर्ट में अधिकारियों से नवजात शिशु के विवरण छिपाने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की गयी है। चाइल्डलाइन में पीड़िता की मां द्वारा दर्ज करायी गयी एक शिकायत के आधार पर 28 फरवरी को पादरी को गिरफ्तार किया गया था। पीड़िता की मां ने कहा था कि फादर रोबिन उर्फ मैथ्यू वडक्कनचेरिल ने पिछले साल उसकी बेटी का ‘यौन उत्पीड़न’ किया था। चर्च प्रशासन ने पादरी को हटा भी दिया। यह मामला उस समय सामने आया जब जिले के नीनदुनोक्की इलाके में रहने वाली लड़की ने सात फरवरी को कोथुपरमबा के एक निजी अस्पताल में एक लड़के को जन्म दिया।

गुरमेहर विवाद: जावेद अख्तर ने सहवाग को महान खिलाड़ी कहा, वापस लिए अपने शब्द

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सेना में सहायक सिस्टम का विरोध करने वाले जवान का शव लेने से परिजनों का इनकार, कहा- दोबारा हो पोस्टमार्टम
2 अरविंद केजरीवाल के निशाने पर टि्वटर, ट्वीट कर साधा निशाना और पूछा- दिक्‍कत क्‍या है
जस्‍ट नाउ
X