scorecardresearch

केरल में मुस्लिम कार्यकर्ता का कत्ल, कांग्रेस बोली- सीपीएम ने मारा

पुलिस के मुताबिक सुहैब और उसके दो दोस्त मट्टनूर के पास इदयान्नूर में सड़क के किनारे एक ढाबे में थे, तभी चार लोगों के गैंग ने उनपर हमला कर दिया। पुलिस के मुताबिक ये चारों बदमाश एक वैन में सवार होकर वहां पहुंचे और सुहैब पर देसी बम फेंकने लगे, इसके बाद गुंडों ने सुहैब पर हमला कर दिया।

Kannur, Kerala, Kerala killing, Youth Congress leader hacked to death, Mattannur, CPI(M), CPM, Thiruvananthapuram, Thiruvananthapuram news, Hindi news, News in Hindi, Jansatta
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

केरल के कन्नूर जिले में कुछ बदमाशों ने मुस्लिम समुदाय के एक युवा कांग्रेस नेता की हत्या कर दी। घटना सोमवार (12 फरवरी) की आधी रात की है। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि इस हत्या के पीछे सीपीएम का हाथ है। कांग्रेस इस हत्या के विरोध में मंगलवार को सुबह से शाम तक हड़ताल का ऐलान किया है। मृतक सुहैब (30 साल) कन्नूर जिले में कीझल्लौर मंडल का कांग्रेस अध्यक्ष था। पुलिस के मुताबिक सुहैब और उसके दो दोस्त मट्टनूर के पास इदयान्नूर में सड़क के किनारे एक ढाबे में थे, तभी चार लोगों के गैंग ने उनपर हमला कर दिया। पुलिस के मुताबिक ये चारों बदमाश एक वैन में सवार होकर वहां पहुंचे और सुहैब पर देसी बम फेंकने लगे, इसके बाद गुंडों ने सुहैब पर हमला कर दिया। सुहैब को तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन कोझिकोड़ मेडिकल कॉलेज ले जाने के दौरान रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। सुहैब के दोस्त नौशाद (26) और रियास (36) को कन्नूर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पुलिस का कहना है कि इदयान्नूर के एक हायर सेकेंडरी स्कूल में दो छात्र संगठनों एसएफआई और केएसयू के बीच भिडंत भी हुई थी। SFI सीपीएम का छात्र संगठन है जबकि केएसयू कांग्रेस का। सीपीएम ने इस घटना में अपना हाथ होने से इंकार किया है। मट्टनूर में सीपीएम के नेताओं ने कांग्रेस के आरोपों को गलत करार दिया। पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने संदेह व्यक्त किया है कि यह पिछले सप्ताह इलाके में हुयी हिंसा के मामलों से संबद्ध है। भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम की धारा तीन और पांच के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस ने बताया कि घटना के सिलसिले में किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है और मामले की जांच की जा रही है।

बता दें कि केरल राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हत्याओं के लिए कुख्यात रहा है। केरल में कभी बीजेपी, कभी आरएसएस तो कभी सीपीएम कार्यकर्ताओं के हत्या की खबरें आती रहती हैं। केरल में कन्नूर में ही 19 जनवरी को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने तब कहा था कि मृतक श्यामा प्रासद का नाम दो साल पहले सीपीएम के एक कार्यकर्ता की हत्या के मामले में आया था। श्यामाप्रसाद ABVP के सदस्य थे और कन्नवम में संघ की शाखा के प्रमुख ट्रेनर थे।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.