केरल चुनावः उच्च शिक्षा मंत्री केटी जलील का इस्तीफा, जानें- क्या है वजह?

केरल के उच्च शिक्षा मंत्री केटी जलील ने इस्तीफा दे दिया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) से जुड़े सूत्रों के हवाले से समाचार एजेंसी PTI ने बताया कि उन्होंने अपना त्याग-पत्र राज्यपाल को भेज दिया है। जलील का यह इस्तीफा ऐसे वक्त पर आया है, जब सोमवार को उन्होंने लोकायुक्त की रिपोर्ट को चुनौती […]

Author Edited By अभिषेक गुप्ता तिरुवनंतपुरम | Updated: April 13, 2021 2:17 PM
KT Jaleel, Kerala, State Newsकेरल के उच्च शिक्षा मंत्री केटी जलील। (फाइल फोटोः fb/drkt.jaleel)

केरल के उच्च शिक्षा मंत्री केटी जलील ने इस्तीफा दे दिया है। मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) से जुड़े सूत्रों के हवाले से समाचार एजेंसी PTI ने बताया कि उन्होंने अपना त्याग-पत्र राज्यपाल को भेज दिया है।

जलील का यह इस्तीफा ऐसे वक्त पर आया है, जब सोमवार को उन्होंने लोकायुक्त की रिपोर्ट को चुनौती देते हुए केरल उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। दरअसल, इस रिपोर्ट में जलील को बतौर लोक सेवक अपने पद का दुरुपयोग कर एक रिश्तेदार को फायदा पहुंचाने का दोषी ठहराया गया है। पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री को सौंपी गई अपनी रिपोर्ट में लोकायुक्त ने कहा था कि जलील को मंत्री पद पर बरकरार नहीं रखा जाना चाहिए।

जलील ने अपनी याचिका में आरोप लगाया कि बिना किसी प्राथमिक जांच अथवा नियमित पड़ताल के रिपोर्ट तैयार की गई। उन्होंने याचिका में यह भी दावा किया कि केरल लोक आयुक्त अधिनियम के तहत इस मामले की जांच लोकायुक्त के दायरे में नहीं आती। जलील ने यह भी दावा किया कि केरल के उच्च न्यायालय और राज्यपाल ने भी इस संबंध में याचिकाओं को सुनने से इंकार कर दिया था।

उल्लेखनीय है कि लोकायुक्त की खंडपीठ ने कहा था कि मंत्री के खिलाफ सत्ता का दुरुपयोग, पक्षपात और भाई-भतीजावाद के आरोप साबित हुए हैं। मुस्लिम यूथ लीग ने दो नवंबर 2018 को आरोप लगाया था कि नियमों का उल्लंघन कर अदीब के टी को केरल राज्य अल्पसंख्यक विकास वित्त निगम का महाप्रबंधक नियुक्त किया गया था जोकि जलील के रिश्तेदार हैं।

Next Stories
1 कृषि कानूनः पश्चिमी UP में BJP के खिलाफ कम न हो रहा किसानों का विरोध! ‘मुर्दाबाद-मुर्दाबाद’ के नारे लगा मंत्री को वापस लौटने पर किया मजबूर
2 MP में दमोह उपचुनाव: पंडाल, सैकड़ों कुर्सियां पड़ी रहीं खाली, फिर भी हाथ लहरा-लहरा भाषण देते रहे मंत्री; कांग्रेस ने ली चुटकी
3 महाराष्ट्रः गद्दे में कॉटन के बजाय भर दिए गए इस्तेमाल किए गए मास्क! फैक्ट्री के ‘खेल’ का भंडाफोड़
ये पढ़ा क्या?
X