ताज़ा खबर
 

नोटबंदी: कैश की कमी से केरल सरकार नहीं दे पा रही है कर्मचारियों की सैलरी-पेंशन

नोटबंदी की वजह से हुई कैश कि किल्लत से केरल सरकार अपने कर्मचारियों की सैलरी और पेंशन का भुगतान शायद ही इस बार पूरा कर सकेगी।

Author Updated: January 3, 2017 5:23 PM
इससे पहले ईपीएफओ ने अपने अंशधारकों को 50 हजार रुपये का अलग से वित्तीय लाभ दिए जाने का ऐलान किया था। (संकेतात्मक तस्वीर)

नोटबंदी की वजह से हुई कैश कि किल्लत से केरल सरकार अपने कर्मचारियों की सैलरी और पेंशन का भुगतान शायद ही इस बार पूरा कर सकेगी। राज्य को सरकारी कर्मचारियों के भुगतान के लिए लगभग 1,391 करोड़ रुपये की जरूरत है लेकिन उसे सिर्फ 400 करोड़ रुपये की करेंसी अभी तक मिल पाई है। वहीं प्रशासन द्वारा भुगतान कर्मचारियों और पेंशनधारकों के बैंक खातों में कर दिया गया है लेकिन उन्हें इसे कैश कराने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

आरबीआई ने राज्य सरकार को यह जानकारी दी है कि अभी जरूरत की सिर्फ 60% करेंसी ही उपलब्ध है। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक लगभग 600 करोड़ रुपये पहले राज्य सरकार को देने का वादा किया गया था लेकिन सिर्फ 400 करोड़ रुपये ही 1 जनवरी 2017 को दिए जा सके थे। राज्य सरकार को लगभग 5.6 लाख कर्मचारियों की सैलरी और 4.35 लोगों को पेंशन का भुगतान करना है। केरल में भी करेंसी की कमी के चलते एटीएम बड़ी संख्या में बंद पड़े हैं।

एक अनुमान के मुताबिक सिर्फ 50% एटीएम ही चालू हैं। केरल में लगभग 8 हजार एटीएम हैं और जिनमें से 6 हजार बैंकों में मौजूद हैं। इसी बीच खबरों के मुताबिक कई एटीएम जो गांव-देहात इलाकों में स्थित हैं वे भी निष्क्रिय पड़े हैं।

नोटबंदी के बाद अब ट्रांजेक्शन चार्ज को लेकर लोग परेशान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X