ताज़ा खबर
 

केरल के राज्‍यपाल की गाड़ी ने तोड़ी स्‍पीड लिमिट, भरा जुर्माना

स्पीड लिमिट तोड़ने वाली गाड़ी से जुड़ी सीसीटीवी फुटेज जब निकाली गई, तो पता चला कि गाड़ी की रफ्तार 55 किलोमीटर प्रति घंटा थी।

केरल के राज्यपाल पी.सदाशिवम। (एक्सप्रेस फोटोः अमित मेहरा)

केरल के राज्यपाल और देश के पूर्व चीफ जस्टिस पी.सदाशिवम की गाड़ी स्पीड लिमिट का उल्लंघन करते पाई गई, जिसके बाद उन्होंने जुर्माना भरा। 400 रुपए की यह रकम उन्होंने अपने कर्मचारी से मोटर व्हीकल डिपार्टमेंट (एमवीडी) में जमा कराई। रोचक बात है कि जिस दिन उनकी गाड़ी तय रफ्तार से अधिक में चलते पाई गई, उस दौरान राज्यपाल गाड़ी में नहीं थे। ऐसे में जुर्माना चुका कर उन्होंने आम लोगों के सामने एक नजीर पेश की है।

यह मामला बीते सात अप्रैल का है। राज्यपाल की गाड़ी तब कोदियार-वेल्लायमबलम मार्ग पर तय रफ्तार से अधिक में भाग रही थी। घटनास्थल पर कुछ ही दिनों पहले एचडी कैमरे लगाए गए थे। स्पीड लिमिट तोड़ने वाली गाड़ी से जुड़ी सीसीटीवी फुटेज जब निकाली गई, तो पता चला कि गाड़ी की रफ्तार 55 किलोमीटर प्रति घंटा थी। भूरे रंग की मर्सिडीज बेंज ई-250 कार का नंबर केएल-01-बीडी-8662 है, जो राज्यपाल के सचिव के नाम पर पंजीकृत है।

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि राज भवन ने नवंबर 2011 में यह लग्जरी गाड़ी खरीदी थी, जिसे ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करते धरा गया था। राज भवन में उस बाबत पिछले हफ्ते चालान भेजा गया था। राज्यपाल ने इसके बाद अपने कर्मचारियों को सड़क सुरक्षा और ट्रैफिक नियम का कड़ाई से पालन करने के लिए निर्देश दिए हैं।

केरल के राज्यपाल के अलावा ऐसा ही एक अन्य मामला भी सामने आया है। राज्य में हाईकोर्ट के जज के एक अधिकारी ने तय रफ्तार से तेज गाड़ी चलाई थी। बिना किसी बहाने या टालमटोल के उस मामले में भी जुर्माना चुकाया गया था। वैसे राज्यपाल जब अपनी गाड़ी का इस्तेमाल नहीं करते हैं, तब राज भवन के कर्मी उनकी गाड़ी पर लगे ‘राष्ट्रीय’ के स्टिकर को ढंक कर उसे बाहर किसी काम से ले जाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App