scorecardresearch

विरोध के बाद नरेन्द्र मोदी सरकार ने बदला फैसला, कोच्चि मेट्रो के उद्घाटन के दौरान मंच पर मौजूद रहेंगे मेट्रोमैन ई श्रीधरन

कोच्चि मेट्रो के उद्घाटन को लेकर शनिवार (17 जून) को कार्यक्रम का आयोजन किया गया है।

विरोध के बाद नरेन्द्र मोदी सरकार ने बदला फैसला, कोच्चि मेट्रो के उद्घाटन के दौरान मंच पर मौजूद रहेंगे मेट्रोमैन ई श्रीधरन
मेट्रो मैन ई श्रीधरन अब कोच्चि मेट्रो के उदघाटन के मौके पर पीएम मोदी के साथ मंच पर मौजूद रहेंगे।

कोच्चि मेट्रो के उद्घाटन के मौके पर मेट्रो मैन ई श्रीधरन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ मंच पर मौजूद रहेंगे।  बुधवार (14 जून) को मीडिया में ये खबरें आई थी कि पीएमओ ने पीएम मोदी के साथ मंच पर मौजूद रहने वाले नेताओं की सूची से दिल्ली मेट्रो के कर्ता-धर्ता रहे ई श्रीधरन का नाम काट दिया है। पीएमओ के इस फैसले का देश भर में जोरदार विरोध हुआ था। लोगों ने सोशल मीडिया के जरिये सरकार के इस फैसले पर आपत्ति जताई थी। लेकिन अब खबर आ रही है कि पीएमओ ने मंच पर ई श्रीधरन को जगह दी है। केरल बीजेपी के अध्यक्ष कुम्मानम राजशेखरन, और सीएम ऑफिस ने इस खबर की पुष्टि की है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 17 जून को कोच्चि मेट्रो का उद्घाटन करने वाले हैं। इस कार्यक्रम में पीएमओ ने सिर्फ 6 लोगों को ही पीएम मोदी के साथ मंच पर उपस्थित होने की अनुमति दी थी। इनमें केरल के सीएम पिन्नारी विजयन, केन्द्रीय मंत्री वेंकैया नायडु, राज्यपाल पी सदाशिवम, सांसद के वी थॉमस, मंत्री थॉमस चांडी और स्थानीय  मेयर सौमिनी जैन का नाम शामिल था। इस लिस्ट में मेट्रो मैन ई श्रीधरन का नाम शामिल होने से केरल समेत देश भर के लोगों ने आपत्ति जताई थी। केरल की सरकार ने पीएमओ को पत्र लिखकर इस सूची में श्रीधरन और विपक्ष के नेता चेन्नीथला और विधायक पीटी थॉमस को भी मंच पर शामिल करने की मांग की थी।

पीएमओ ने इस मांग पर विचार करते हुए ई श्रीधरन और विपक्ष के नेता चेन्नीथला को मंच पर मौजूद रहने की अनुमति दे दी है। इसके अलावा कोच्चि मेट्रो रेल लिमिटेड के एमडी एलियास जॉर्ज को भी मंच पर रहने की अनुमति दे दी गई है।हालांकि पीएमओ ने विधायक पीटी थॉमस को मंच पर मौजूद रहने की परमिशन नहीं दी है।  बता दें कि कोच्चि मेट्रो का काम साल 2012 में शुरु किया गया था। दिल्ली मेट्रो रेल कार्पोरेशन के मुख्य सलाहार रहे श्रीधरन के नेतृत्व में ये काम शुरू किया गया। केरल में पहले फेज में 25 किलोमीटर तक मेट्रो चलेगी। अभी पालारीनातोम और अलुवा के बीच 13 किलोमीटर तक मेट्रो चलेगी।

 

पढें केरल (Keralaelections2016 News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.