X

केरल: कॉन्‍वेंट के भीतर कुएं में तैरती मिली नन की लाश

माउंट टैबर कॉन्वेंट में कुएं के पास कुछ कर्मचारियों को खून के छींटे दिखे। उन्हें गड़बड़ होने की आशंका हुई, तो उन्होंने आसपास नजर फिराई। तभी कुएं के भीतर उन्हें नन की लाश तैरते हुए मिली।

केरल के कोल्लम जिला स्थित कॉन्वेंट में रविवार (9 सितंबर) को एक नन मृत मिली। उनकी लाश कुएं के भीतर तैरती पाई गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नन की पहचान सुजैन मैथ्यू के रूप में की गई है। वह 55 साल की थीं। वह पठानपुरम के सेंट स्टीफेंस स्कूल में पढ़ाती थीं। सुबह लगभग नौ बजे माउंट टैबर कॉन्वेंट में कुएं के पास कुछ कर्मचारियों को खून के छींटे दिखे थे। उन्हें गड़बड़ होने की आशंका हुई, तो उन्होंने आस-पास नजर फिराई। तभी कुएं के भीतर उन्हें नन की लाश तैरते हुए मिली। हालांकि, नन की मौत का कारण अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है।

रिपोर्ट्स में यह भी दावा किया गया कि सुजैन माउंट टैबर में बीते 12 सालों से पढ़ा रही थीं। यहां पर इस स्कूल और कॉन्वेंट का संचालन मलनकारा सीरियन ऑर्थोडॉक्स चर्च करता है, जिसका मुख्यालय कोट्टयम में है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो नन के कमरे में भी खून के दाग पाए गए। ऐसे में पुलिस इस मामले को संदिग्ध मान रही है। फिलहाल वह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है। नन यहां कमरे में अकेली ही रहती थी। शुक्रवार को वह हफ्ते भर की छुट्टी से लौटी थी। अगल-बगल कमरों में रहने वाली साथी नन ने दावा किया कि मृतका को कोई स्वास्थ्य संबंधी शिकायत थी।

नन की रहस्यमयी हालत में मौत का यह मामला राज्य में घटे सिस्टर अभया मामले की याद दिलाता है। साल 1992 में सिस्टर कोट्टयम स्थित सेंट पियस एक्स कॉन्वेंट में कुएं के अंदर मृत पाई गई थीं। मामले की जांच तब केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपी गई थी। उससे पहले मामले की जांच पुलिस कर रही थी।

साल 2009 में दो पादरियों और एक नन पर सिस्टर अभया की हत्या करने व घटना के सबूत मिटाने का आरोप लगा था। दावा था कि आरोपी पादरियों के उस नन के साथ नाजायज रिश्ते थे। सिस्टर अभया को यह बात किसी तरह पता चल गई थी, लिहाजा उनकी हत्या कर दी गई। मामले में ट्रायल प्रोसीडिंग सीबीआई की विशेष अदालत में लंबित है, जबकि सभी आरोपी जमानत पर बाहर हैं।

  • Tags: Kerala,