ताज़ा खबर
 

केरल: CPI(M) सचिव का बेटा ड्रग पेडलर्स को पैसे भेजने के आरोप में धराया, ED का दावा- ड्रग्स की खरीद-फरोख्त की बात कबूली

"फंड ट्रेल की जांच ने यह भी स्थापित किया कि बेहिसाब धन की बड़ी राशि नियमित रूप से उनके (अनूप के) खातों में बिनेश कोडियरी द्वारा जमा की जा रही थी।"

Author Edited By chetan kumar sharma Updated: October 30, 2020 9:05 PM
Bineesh Kodiyeri, Karnataka Drug Probe, Enforcement Directorate, Bengaluru Drug Case, Bengaluru Drug Case News,जांच एजेंसी ने दावा किया कि यह भी पता चला है कि उसने (अनूप) विभिन्न बैंक खातों को अपने कब्जे में ले लिया और अपराध की बड़ी रकम को विभिन्न खातों में ट्रांसफर करने / ले जाने में लिप्त हो गया।

केरल के सीपीआई (एम) नेता कोडियरी बालाकृष्णन के बेटे बिनेश कोडिएरी को गिरफ्तार करने के एक दिन बाद शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि उन्होंने कथित तौर पर ड्रग पेडलर के बैंक खातों में “बड़ी मात्रा में बेहिसाब धनराशि” जमा की है। बिनेश कोडियरी को केंद्रीय जांच एजेंसी ने गुरुवार को बेंगलुरु में एंटी मनी-लॉन्ड्रिंग कानून के तहत गिरफ्तार किया था, जिसके बाद एक स्थानीय अदालत ने उन्हें 2 नवंबर तक प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत में भेज दिया था।

जांच एजेंसी ने आरोप लगाया कि इस मामले में “ड्रग पेडलर”, मोहम्मद अनूप, बिनेश का “बेनामीदार” था। बेनामीदार एक ऐसा व्यक्ति है जिसके नाम पर बेनामी संपत्ति रखी गई है या हस्तांतरित की गई है, और उस व्यक्ति के लिए एक लाभकारी मालिक है जिसके लाभ के लिए संपत्ति को बेनामीदार द्वारा रखा जा रहा है। अनूप को इस मामले में ईडी ने 17 अक्टूबर को भी गिरफ्तार किया था।

प्रवर्तन निदेशालय की जांच एक नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की जांच से निकली है जिसमें दावा किया गया है कि अनूप और दो अन्य की गिरफ्तारी के साथ अगस्त में कर्नाटक में एक एक्स्टसी पिल्स ड्रग ट्रैफिकिंग रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। जांच एजेंसी ने एक बयान जारी किया और दावा किया कि अनूप ने अपने हिरासत में पूछताछ के दौरान, “स्वीकार किया कि वह मादक पदार्थों की बिक्री और खरीद में लिप्त था और बिनेश कोडियारी के साथ करीब से जुड़ा था।” जांच एजेंसी ने दावा किया कि यह भी पता चला है कि उसने (अनूप) विभिन्न बैंक खातों को अपने कब्जे में ले लिया और अपराध की बड़ी रकम को विभिन्न खातों में ट्रांसफर करने / ले जाने में लिप्त हो गया।

“फंड ट्रेल की जांच ने यह भी स्थापित किया कि बेहिसाब धन की बड़ी राशि नियमित रूप से उनके (अनूप के) खातों में बिनेश कोडियरी द्वारा जमा की जा रही थी।” प्रवर्तन निदेशालय ने आरोप लगाया, “ये केरल में बड़ी नकदी जमा से पहले बिनेश कोडियरी के खातों में थे।” एजेंसी ने दावा किया कि “अनूप, बिनेश कोडियरी के एक साथी हैं और उनके सभी वित्तीय सौदे बिनेश के निर्देशों पर किए गए थे जिन्होंने उन्हें भारी मात्रा में पैसे दिए थे।”

ईडी ने कहा, “वह इन नकदी और फंड लेनदेन की व्याख्या नहीं कर सका।” एनसीबी ने पिछले दिनों दावा किया था कि कर्नाटक में “प्रमुख संगीतकार और अभिनेता” इस ऑपरेशन के बाद इसके दायरे में हैं। इस मामले में गिरफ्तार तीनों पर कन्नड़ फिल्म अभिनेताओं और गायकों को ड्रग्स की आपूर्ति करने का आरोप है। बिनेश ने कहा है कि वह अनूप और उसके परिवार को जानता था और बाद में कुछ साल पहले बेंगलुरु में उससे और कुछ अन्य लोगों से रेस्तरां व्यवसाय स्थापित करने के लिए पैसे उधार लिए थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Elections 2020: चिराग पासवान का हमला- CM की ‘7 निश्चय’ योजना भ्रष्टाचार का पिटारा, JDU और RJD दे रहे झांसा
2 J&K का आतंक को जवाब! TRF की चेतावनी के बाद भी मारे गए BJP कार्यकर्ताओं के जनाजे में उमड़ा हुजूम, BJP बोली- चुन-चुनकर सफाया करेंगे
3 यूपीः 11वीं के छात्र ने पिता को उतार दिया मौत के घाट, वारदात से पहले 100 बार देखे थे क्राइम शो
यह पढ़ा क्या?
X