ताज़ा खबर
 

2G Scam Verdict: केरल कांग्रेस अध्यक्ष ने पूर्व CAG विनोद राय को बताया भाजपा का एजेंट

कैग का पद संभालने से पहले विनोद राय केरल के वित्त सचिव रहे थे और राज्य में नौकरशाह के तौर पर उन्होंने कई वर्षों तक विभिन्न पदों को संभाला था।
Author तिरुवनंतपुरम | December 21, 2017 19:43 pm
पूर्व नियंत्रक एवं लेखा महापरीक्षक (कैग) विनोद राय। (Express Archive)

केरल कांग्रेस अध्यक्ष एम.एम. हसन ने देश के पूर्व नियंत्रक एवं लेखा महापरीक्षक (कैग) विनोद राय को आड़े हाथ लेते हुए उन्हें भारतीय जनता पार्टी का एजेंट बताया और राय व पार्टी को 2जी मामले में बरी किए गए सभी आरोपियों से माफी मांगने के लिए कहा। हसन ने कहा, “आरोपियों के बरी होने से यह स्पष्ट हो गया है कि यह और कुछ नहीं, बस राजनीति से प्रेरित मामला था और तब कैग रहे राय ने काल्पनिक रूप से 1.76 लाख करोड़ रुपए के घोटाले की बात कही थी।”

उन्होंने कहा कि अदालत के आदेश से यह भी साबित हुआ कि राय भारतीय जनता पार्टी के एजेंट हैं। हसन ने कहा, “यह काल्पनिक मामला था, जिसका भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले जमकर प्रयोग किया और सत्ता पर आसीन हो गई। अब भाजपा और राय को माफी मांगनी चाहिए।”

कैग का पद संभालने से पहले विनोद राय केरल के वित्त सचिव रहे थे और राज्य में नौकरशाह के तौर पर उन्होंने कई वर्षों तक विभिन्न पदों को संभाला था। उल्लेखनीय है कि विशेष न्यायाधीश ओ.पी.सैनी ने पूर्व दूरसंचार मंत्री ए.राजा और डीएमके सांसद कनिमोझी सहित सभी आरोपियों को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा दायर 2जी मामलों में बरी कर दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. K
    Kumar
    Dec 22, 2017 at 11:28 am
    विनोद राय ने एक षड्यंत्र के तहत फर्जी रिपोर्टें तैयार करके अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश कि छवि को बदनाम किया है जो देशद्रोह से भी बढ़कर है. इसलिए इन पर सरकार देश्द्रोह का मुकदमा चलाये और फांसी कि सजा दी जाय. साथ में ये भी जांच होनी चाहिये कि इस पट्कथा को लिखने में किन किन लोगों का हाथ था और उन पर भी मुकदमा चलाया जाए.
    (2)(0)
    Reply