ताज़ा खबर
 

नाबालिग लड़की से रेप के आरोप में पादरी गिरफ्तार, पीडि़ता के मां बनने के बाद खुला मामला

केरल के कोच्चि में पुलिस ने एक केथोलिक पादरी को एक नाबालिग लड़की के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

Author February 28, 2017 8:18 AM
केरल के कोच्चि में पुलिस ने एक केथोलिक पादरी को एक नाबालिग लड़की के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर|

केरल के कोच्चि में पुलिस ने एक केथोलिक पादरी को एक नाबालिग लड़की के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पीडि़ता के मां बनने के बाद पादरी को गिरफ्तार किया गया। आरोपी की पहचान 48 साल के रोबिन वडक्‍कनचेरिल के रूप में हुई है। वह कन्‍नूर जिले के कोटियूर में सेंटर सेबेस्टियन चर्च में पादरी है। पुलिस ने बताया कि पीडि़ता स्‍कूली लड़की है। पादरी ने चर्च जुड़े अपने निवास स्‍थान के बेडरूम में उससे रेप किया। रेप की घटना एक बार हुई।

पुलिस ने बताया, ”लड़की ने तीन सप्‍ताह पहले बच्‍चे को जन्‍म दिया। नवजात को वायानाड जिले में एक निजी अनाथालाय को सौंप दिया गया। मामला दर्ज करने के बाद बच्‍चे को कन्‍नूर के सरकारी अनाथालय भेज दिया गया।” पादरी पहले एक कॉलेज में भी काम कर चुका है। साथ ही चर्च की ओर से चलने वाले अखबार दीपिका औश्र जीवन टीवी का निदेशक रह चुका है। पुलिस को मामले के बारे में हल्‍की से जानकारी मिली थी। इस पर पुलिस ने रविवार(26 फरवरी) को लड़की से पूछताछ की।

पुलिस के अनुसार, ”शुरुआत में लड़की ने बताया कि उसके पिता ने ही उसका शोषण किया। बाद में जब हमने विस्‍तार से महिला पुलिसकर्मी की मदद से पूछा तो उसने फादर रोबिन का नाम बताया।” पुलिस का कहना है कि लड़की के माता-पिता को उसके प्रेगनेंट होने का पता ही नहीं चला। वह रोज स्‍कूल जाती थी और कपड़े इस तरह से पहनती थी कि किसी को उसके गर्भवती होने का पता नहीं चल पाया। मामले के सामने आने के बाद मनंथवड़ी पादरी क्षेत्र ने रोबिन का नाम और फोटो वेबसाइट से हटा दी।

कोटियूर के लोगों ने बताया कि पादरी रविवार तक चर्च में था। दिलचस्‍प बात है कि पादरी अपने उपदेशों में बच्‍चों के खिलाफ यौन शोषण के मामले के खिलाफ बोला करता था। कुछ महीने पहले उसने इलाके में चल रहे एक सेक्‍स रैकेट के बारे में भी पुलिस को सूचना दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App