ताज़ा खबर
 

यूपी चुनाव: प्रशांत किशोर को अलग रख कर कांग्रेस ने बनाया दूसरे चरण के प्रचार का प्लान

सपा-कांग्रेस गठबंधन पर कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता के कहा कि यूपी विधान सभा चुनावों में 100 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है लेकिन सपा 50-60 सीटों से ज्यादा देने को तैयार नहीं।
Author December 15, 2016 09:18 am
चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (फाइल फोटो)

कांग्रेस उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधान सभा चुनावों के लिए दूसरे चरण का प्रचार अभियान शुरू करने के तैयार है। कांग्रेस संसद के शीतकालीन सत्र के खत्म होते ही अपना प्रचार अभियान शुरू कर देगी लेकिन खास बात ये है कि कांग्रेस की प्रचार योजना में चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को अलग-थलग रखा गया है। दूसरे चरण के प्रचार अभियान में राहुल गांधी इसी महीने 19 दिसंबर को जौनपुर में और 22 दिसंबर को बहराइच में जनसभा करेंगे।

जहां कांग्रेस दूसरे चरण का प्रचार अभियान शुरू करने की तैयारी में है वहीं मीडिया और सियासी गलियारों में उसके और समाजवादी पार्टी के बीच चुनाव-पूर्व गठबंधन की चर्चाएं गरम हैं। हालांकि सूत्रों के अनुसार दोनों दलों के बीच इस मुद्दे पर अभी कोई उल्लेखनीय प्रगति नहीं हुई है। दोनों दल के बीच सीटों के बंटवारे के लेकर मतभेद नहीं सुलझ रहे हैं। शायद इसी वजह से कांग्रेस ने अकेले दम पर प्रचार की रणनीति तैयार की है।

एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने बताया, “अगर बीजेपी को रोकना है तो सभी सेकुलर पार्टियों को साथ आना होगा। ये केवल कांग्रेस की जिम्मेदारी नहीं है। क्षेत्रीय पार्टियों को भी इस दिशा में सोचना होगा।” सूत्रों के अनुसार कांग्रेस द्वारा बनाई गई प्रचार योजना में पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस के यूपी प्रभारी गुलाम नबी आजाद, यूपी की सीएम उम्मीदवार शीला दीक्षित और यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर पूरे राज्य में दौरा और जनसभाएं करेंगे। हालांकि प्रियंका गांधी इस प्रचार अभियान में शामिल होंगी या नहीं ये अभी तक साफ नहीं हुआ है।

कांग्रेस का यूपी में दूसरे चरण का प्रचार अभियान गुलाम नबी आजाद ने दूसरे कांग्रेसी नेताओं के संग चर्चा के बाद तैयार किया है। सूत्रों के अनुसार प्रशांत किशोर इस चर्चा में नहीं शामिल थे। प्रशांत किशोर को करीब एक साल पहले यूपी में 2017 में होने वाले विधान सभा चुनावों के मद्देनजर पार्टी के चुनाव प्रचार की रणनीति बनाने का जिम्मा सौंपा गया था लेकिन अब उन्हें किनारे किया जा रहा है। हालांकि प्रशांत किशोर की टीम अभी भी जमीन पर सक्रिय है।

एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने बताया, ” गठबंधन में चुनाव लड़ने के लिए कांग्रेस 100 सीटें मांग रही है लेकिन सपा उसे 50-60 सीटें देने को ही तैयार है।” वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कहते हैं, “पार्टी के लिए ये काफी अपमानजनक होगा।” मंगलवार (13 दिसंबर) को यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने कहा था कि अगर सपा और कांग्रेस मिलकर चुनाव लडेंगे तो सूबे की 403 सीटों में 300 से ज्यादा पर जीत हासिल करेंगे। वहीं राहुल गांधी ने बुधवार (14 दिंसबर) को गठबंधन से जुड़े सवाल को टाल दिया।

वीडियोः नोटंबदी के बाद वृंदावन के बांके बिहारी मंदिर में इस तरह की जाती है पैसों की गिनती

वीडियोः ‘ऐ ज़िंदगी गला लगा ले’ के नए वर्ज़न में आलिया भट्ट ने किया शाहरुख खान का फेमस पोज़

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.