ताज़ा खबर
 

जांच एजेंसी की रडार पर आए श्रीराम सेना अध्यक्ष प्रमोद मुथालिक ने दिवंगत गौरी लंकेश की तुलना कुत्ते से की

हिंदूवादी नेता और श्री राम सेना के संस्थापक प्रमोद मुथालिक ने पिछले साल हमले में मारी गईं पत्रकार गौरी लंकेश की तुलना कुत्ते से की है।हत्या के मामले में किसी तरह के कनेक्शन से इन्कार करते हुए उन्होंने यह बात कही।

Author नई दिल्ली | June 18, 2018 12:04 PM
श्रीराम सेना के संस्थापक प्रमोद मुथालिक(फाइल फोटो)

हिंदूवादी नेता और श्री राम सेना के संस्थापक प्रमोद मुथालिक ने पिछले साल हमले में मारी गईं पत्रकार गौरी लंकेश की तुलना कुत्ते से की है।हत्या के मामले में किसी तरह के कनेक्शन से इन्कार करते हुए उन्होंने यह बात कही।प्रमोद ने कहा कि कुछ लोग चाहते थे कि नरेंद्र मोदी गौरी लंकेश की मौत पर प्रतिक्रिया दें, अगर कर्नाटक में कुछ कुत्ते मर जाएं तो मोदी को क्यों प्रतिक्रिया देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गौरी लंकेश की हत्या का विरोध करने वाले लोगों ने कांग्रेस के असफल शासन का विरोध क्यों नहीं किया।

उन्होंने गौरी लंकेश की हत्या में गिरफ्तार संदिग्धों के श्री राम सेना से किसी तरह के जुड़ाव से इन्कार दिया।सफाई देते हुए ककहा कि श्री राम सेना का गौरी लंकेश की हत्या से किसी तरह का लेना-देना नहीं है।हर तरफ से कहा जा रहा कि पत्रकार और ऐक्टिविस्ट गौरी लंकेश की हत्या में हिंदूवादी तत्वों का हाथ है। जबकि कांग्रेस सरकार में महाराष्ट्र में दो और कर्नाटक में दो हत्याएं हुईं।कांग्रेस का नाम आने पर लोग चुप्पी साध जाते हैं।जबकि कहा जा रहा है कि घटना पर मोदी क्यों चुप रहे। प्रमोद मुथालिक ने कहा-क्या आप उम्मीद करते हैं कि अगर कर्नाटक में कुत्ते की मौत होती है तो प्रधानमंत्री सफाई दें। मुथालिक की इस टिप्पणी पर हंगामा खड़ा हो गया।

टाइम्स नाऊ चैनल पर बहस के दौरान कांग्रेस ननेता बृजेश कालप्पा ने कहा कि समझ में नहीं आता कि मुथालिक किस हिंदू धर्म की बात कर रहे हैं, बयान शर्मनाक है और इस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।हंगामा बढ़ने पर बाद में प्रमोद मुथालिक ने सफाई देते हुए कहा कि उनके कहने का मतलब कुछ और था। कुत्ते से उन्होंने सीधे तौर पर तुलना नहीं की बल्कि कहने का मतलब था कि प्रधानमंत्री कर्नाटक में हर मौत का जवाब नहीं दे सकते। उधर हत्याकांड की जांच कर रही एसआइटी ने श्रीराम सेना के विजयपुरा जिला अध्यक्ष राकेश मथ को भी पूछताछ के लिए नोटिस दिया है।दरअसल जांच के दौरान कुछ संकेत मिले कि गौरी लंकेश की हत्या में श्रीराम सेना का हाथ हो सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App