ताज़ा खबर
 

कर्नाटक चुनाव: करप्शन के खिलाफ बोलने वाले मोदी-शाह ने इन दागियों को दिया टिकट

बीजेपी अब तक कुल 154 उम्मीदवारों के नाम का एलान कर चुकी है। इनमें से मात्र दो महिला उम्मीदवार हैं, जबकि कांग्रेस की 218 उम्मीदवारों की लिस्ट में 15 महिलाओं के नाम हैं।
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य की सिद्धारमैया सरकार पर करप्शन के आरोप लगाते रहे हैं।

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने कर्नाटक विधान सभा चुनावों के लिए 82 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट सोमवार (16 अप्रैल) को देर शाम जारी कर दी। इस लिस्ट में कई दागी नेताओं को भी टिकट दिया गया है। पिछली बीजेपी की राज्य सरकार में खनन घोटाले के आरोपी रहे मंत्री जी जनार्दन रेड्डी के बड़े भाई जी सोमशेखर रेड्डी के बेल्लारी सिटी से टिकट दिया गया है, जबकि कप्शन केस में आरोपी दो पूर्व विधायकों समेत एक अन्य पूर्व विधायक जो रेप केस में आरोपी रह चुके हैं, उन्हें भी टिकट दिया गया है। हालांकि, ये पूर्व विधायक पिछले ही साल रेप केस से बरी हो चुके हैं। इसके अलावा 82 लोगों में दिवंगत मख्यमंत्री एस बंगरप्पा के बेटे कुमार बंगरप्पा को भी नाम शामिल है। बता दें के बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य की सिद्धारमैया सरकार पर करप्शन के आरोप लगाते रहे हैं।

रेड्डी बंधु सोमशेखर रेड्डी पूर्व विधायक हैं जो 2013 के चुनावों में कांग्रेस के अनिल लाड से चुनाव हार गए थे। इस बार फिर बेल्लारी सिटी विधानसभा 2013 की स्थितियों से गुजर रहा है क्योंकि कांग्रेस ने फिर से अनिल लाड को यहां से मैदान में उतारा है। बीजेपी के दो अन्य विवादित उम्मीदवारों में एस एन कृष्णैया सेट्टी और कट्टा सुब्रमण्यम नायडू हैं जो क्रमश: मलूर और शिवाजी नगर से उम्मीदवार बनाए गए हैं। सेट्टी येदुरप्पा सरकार में मंत्री थे जो साल 2011 में येदुरप्पा के साथ ही करप्शन केस में आरोपी बनाए गए थे। इन पर आरोप था कि इन्होंने एक प्राइवेट कंपनी को फायदा पहुंचाने के लिए गलत तरीके से सरकारी जमीन उनके नाम कर दी थी। बाद में युदरप्पा और सेट्टी आरोपमुक्त कर दिए गए थे। नायडू भी पूर्व मंत्री हैं, उन्हें लोकायुक्त ने करप्शन केस में आरोपी बनाया था।

बीजेपी अब तक कुल 154 उम्मीदवारों के नाम का एलान कर चुकी है। इनमें से मात्र दो महिला उम्मीदवार हैं, जबकि कांग्रेस की 218 उम्मीदवारों की लिस्ट में 15 महिलाओं के नाम हैं। बीजेपी ने अब तक किसी भी अल्पसंख्यक समुदाय से किसी को टिकट नहीं दिया है। बता दें कि 12 मई को राज्य की कुल 224 विधान सभा सीटों के लिए मतदान होने हैं। इसके नतीजे 15 मई को आएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App