ताज़ा खबर
 

कर्नाटक: गठबंधन मजबूत और 2019 फतह करने दूसरा कैबिनेट विस्तार करेंगे कुमारस्वामी, जातीय समीकरण पर होगा जोर!

तीन महीने पुरानी कुमारस्वामी सरकार का यह दूसरा मंत्रिमंडल विस्तार होगा। इससे पहले तीन जून को कुमारस्वामी ने पहला मंत्रिमंडल विस्तार करते हुए कुल 25 नए चेहरों को मंत्री बनाया था।

कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी एवं पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया (फाइल फोटो)

कर्नाटक में नगर निकाय चुनावों में उम्दा प्रदर्शन करने के बाद सत्ताधारी जेडीएस और कांग्रेस गठबंधन की नजर अब लोक सभा चुनावों पर आ टिकी है। इसके मद्देनजर राज्य के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी जल्द ही मंत्रिमंडल विस्तार कर सकते हैं। इकॉनोमिक टाइम्स के मुताबिक कुमारस्वामी सितंबर के तीसरे हफ्ते तक अपना मंत्रिमंडल विस्तार कर सकते हैं। कांग्रेस और जेडीएस सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि सीएम अपने मंत्रिमंडल में सात नए चेहरे शामिल कर सकते हैं। इनमें से 6 चेहरे कांग्रेस से और एक जेडीएस के विधायक होंगे। बता दें कि इस वक्त मुख्यमंत्री समेत कुल 27 लोग मंत्रिपरिषद में शामिल हैं। इनमें से उप मुख्यमंत्री समेत 15 मंत्री कांग्रेस के हैं जबकि मुख्यमंत्री समेत 10 मंत्री जेडीएस के हैं। एक-एक मंत्री बसपा और निर्दलीय हैं। मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के पास वित्त मंत्रालय समेत कुल 11 विभाग हैं जबकि उप मुख्यमंत्री जी परमेश्वर के पास गृह समेत कुल तीन विभाग हैं।

तीन महीने पुरानी कुमारस्वामी सरकार का यह दूसरा मंत्रिमंडल विस्तार होगा। इससे पहले तीन जून को कुमारस्वामी ने पहला मंत्रिमंडल विस्तार करते हुए कुल 25 नए चेहरों को मंत्री बनाया था। इसके बाद सीएम और डिप्टी सीएम समेत मंत्रिमंडल सहयोगियों की संख्या बढ़कर 27 हो गई थी। इनके अलावा सरकार करीब 70 बोर्डों, निगमों और आयोगों में अध्यक्ष और सदस्यों को भी नियुक्त करेगी। इनमें से 30 पद राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त पद है। माना जा रहा है कि लोकसभा चुनावों से पहले जातिगत और सामाजिक समीकरणों को साधने के लिए सरकार इन पदों पर नियुक्ति करेगी ताकि उसका फायदा गठबंधन को लोकसभा चुनावों में मिल सके। सूत्रों के मुताबिक दो दिन पहले ही संयुक्त समन्वय समिति में इस पर मुहर लगी है। इसके बाद दोनों अहम पार्टियों का शीर्ष नेतृत्व चेहरों की तलाश में जुट गया है।

बता दें कि कुछ दिन पहले ही कुमारस्वामी ने दिल्ली आकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी और अपनी सरकार के 100 दिन पूरे होने पर कामकाज की जानकारी उन्हें दी थी। कुमारस्वामी ने तब राहुल गांधी से मंत्रिमंडल विस्तार पर भी चर्चा की थी और उनसे आग्रह किया था कि कांग्रेस इस मामले में जल्द फैसला करे। 225 विधायकों वाले कर्नाटक में अधिकतम 34 मंत्री हो सकते हैं। इस लिहाज से कुल सात रिक्तियां अभी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App