ताज़ा खबर
 

कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया जा रहे थे इसलिए रोक दी एम्बुलेंस, बीमार महिला को पैदल ही जाना पड़ा हॉस्पिटल

मुख्यमंत्री के काफिले के लिए एक साइड की रोड को ब्लॉक कर दिया गया था।

कर्नाटक के सीएम सिद्दारमैया। (FIle Photo)

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया के काफिले की वजह से एक एम्बुलेंस को रोक दिया गया। एम्बुलेंस मरीज को लेकर जा रही थी। एम्बुलेंस रोकने के कारण महिला मरीज को पैदल ही अस्पताल जाना पड़ा। यह मामला कर्नाटक के मंडी जिले के नागामंगलम का है। यहां मुख्यमंत्री के काफिले के लिए एक साइड की रोड को ब्लॉक कर दिया गया था। जैसे ही एम्बुलेंस बेरिकेट्स के पास पहुंची तो उसे बेरिकेट्स पर ही रोक दिया गया। जब एम्बुलेंस में मौजूद लोगों ने वहां ड्युटी पर मौजूद पुलिस अधिकारी से एंबुलेस को जाने देने के लिए कहा तो उसने कहा कि हम सुरक्षा कराणों की वजह से इसे नहीं जानें देंगे। इसके बाद महिला मरीज वहीं एम्बुलेंस से उतर गई और करीब 100 मीटर पैदल चलकर हॉस्पिटल पहुंची।

ऐसा मामला पहली बार नहीं हुआ है जब सीएम के काफिले की वजह से एम्बुलेंस को रोका गया है। पिछली साल जून में भी ऐसा ही मामला सामने आया था तब सिद्धारमैया के काफिले की वजह से एक एम्बुलेंस को करीब 30 मिनट खड़े रहना पड़ा था। जब इसके बारे में सिद्धारमैया से पूछा कि आपके काफिले की वजह से आम लोगों को दिक्कत होती है तो उनका जवाब था कि यह सब उन्हें सहन करना होगा।

इससे पहले साल 2015 में भी ऐसा ही एक मामला आया था। जब बेंगलुरु के गायत्री विहार में सीएम के काफिले के चलते तीन एम्बुलेंस को एक साथ रोका गया था। वहां तैनात ट्रैफिक वार्डन ने जब सुरक्षाकर्मियों से एम्बुलेंस को जाने देने की इजाजत मांगी। तो उसे धक्का देकर उसकी मांग खारिज कर दी गई। ट्रैफिक कर्मी से कहा गया था कि यहां सीएम की सुरक्षा में वे (सुरक्षाकर्मी) तैनात हैं, न कि एम्बुलेंस को रास्ता देने के लिए। ट्रैफिक वार्डन ने तब सोशल मीडिया पर अपनी मजबूरी जाहिर करते हुए इसके लिए खेद व्यक्त किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App