ताज़ा खबर
 

वीडियो: कैमरे में कैद हुई कांग्रेस नेता की हरकत, आॅनड्यूटी पुलिसकर्मी को हड़काने का आरोप

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के सदस्य की अभद्रता एक बार फिर से कैमरे में कैद हो गई है। उन्हें यातायात पुलिस के साथ बदसलूकी और अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हुए पकड़ा गया है। ये वाकया तब हुआ जब पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी पर था।

कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के सदस्‍य और दसाराहल्‍ली विधानसभा के सदस्‍य पीएन कृष्णामूर्ति। फाेटो- YouTube

कांग्रेस नेता और कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के सदस्य की अभद्रता एक बार फिर से कैमरे में कैद हो गई है। इस बार उन्हें यातायात पुलिस के साथ बदसलूकी और अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हुए पकड़ा गया है। ये वाकया तब हुआ है जब यातायात पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी पर तैनात था। कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के सदस्य कृष्णामूर्ति ने वीडियो में पुलिसकर्मी से ये भी कहा कि वह न सिर्फ प्रदेश कांग्रेस कमिटी के सदस्य हैं बल्कि दसाराहल्ली से उम्मीदवार भी हैं। उन्होंने अपनी कार रोककर पुलिसकर्मी को बेवकूफ भी कहा।

पुलिसकर्मी ने कृष्णामूर्ति को बताया कि वह सिर्फ अपना काम कर रहा है। पुलिसकर्मी ने कांग्रेस नेता कृष्णामूर्ति की कार को कथित तौर पर ​तेज रफ्तार से गाड़ी चलाने पर रोका था। इस पर कृष्णामूर्ति ने कहा,”आपको नम्रतापूर्वक गाड़ी सड़क के किनारे लगाने के लिए कहना चाहिए था।” लेकिन इसकी बजाय पुलिसकर्मी ने उनसे पूछा कि अगर इतने में आपकी तेज रफ्तार की वजह से किसी को चोट लग जाती तो। इसके बाद नेता ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल शुरू कर दिया।

कृष्णामूर्ति : क्या हुआ? अब क्या हुआ?

पुलिसकर्मी : तो आप केपीसीसी के सदस्य हैं?

कृष्णामूर्ति : सिर्फ यही नहीं, मैं दसाराहल्ली से उम्मीदवार भी हूं।

पुलिसकर्मी : उम्मीदवार?

कृष्णामूर्ति : मैंने तुम्हें क्या बताया? तुम मुझसे नम्रतापूर्वक गाड़ी किनारे लगाने के लिए भी कह सकते ​थे।

पुलिसकर्मी : मैं अपनी ड्यूटी कर रहा हूं। अगर कुछ हो जाता, क्या होता अगर किसी को चोट लग जाती, एक्सीडेंट हो जाता?

कृष्णामूर्ति : मैं तुम्हारे विभाग को कई सालों से देख रहा हूं। मैं जानता हूं कि कैसे काम होता है? कैसे कोई गाड़ी की चपेट में आकर घायल होता है?

पुलिसकर्मी : किसी को चोट लग सकती थी। किसी का एक्सीडेंट हो सकता था।

कृष्णामूर्ति: तुम क्या कर लोगे?

पुलिसकर्मी : ठीक है, आप जा सकते हैं। मुझे पता है कि मुझे क्या करना है? हम जो भी गलत होता है उस पर जुर्माना लगा देते हैं।

कृष्णामूर्ति : तुम्हें जो करना है कर लो। लिख लो मेरी गाड़ी का नंबर भी नोट कर लो।

पुलिसकर्मी : मैं आपको नहीं बता रहा हूं। मैं किसी अन्य व्यक्ति से बात कर रहा हूं।

कृष्णामूर्ति की कार में बैठा शख्स : बेवकूफ, हट यहां से। तुम्हें पता भी है कि तुम बात कर किससे रहे हो?

पुलिसकर्मी : अपनी भाषा ठीक कीजिए श्रीमान।

कृष्णामूर्ति : बेवकूफ, तू अभी यहां से हट। जुबान को लगाम दे। तुम्हारी बेहतरी इसी में है कि यहां से चुपचाप चले जाओ। तुम्हें पता नहीं है कि तुम बात कर किससे रहे हो।

पुलिसकर्मी : ठीक है, जाइए अब। आप जा सकते हैं।

कृष्णामूर्ति का सहयात्री : इसने बेकार में ही हमें रोक लिया। उसे पता भी नहीं है कि बात कर किससे रहा है। अब हट जा यहां से, अभी आराम से बात रहा हूं। तुझे ये तक नहीं पता है ​कि किससे सभ्यता से बात करनी चाहिए और किससे नहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App