ताज़ा खबर
 

दागी रेड्डी बंधुओं का नजदीकी बनेगा डिप्टी सीएम? अमित शाह बोले- खुले मन से चर्चा करेंगे

माइनिंग माफिया जर्नादन रेड्डी के करीबी माने जाने वाले सांसद बी. श्रीरामुलु ने दावा किया कि अगर भाजपा सत्ता में आती है तो वह उप मुख्यमंत्री बन सकते हैं। लेकिन पहले अमित शाह ने कहा था कि भाजपा का जनार्दन रेड्डी से कोई लेना-देना नहीं है।

भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह। (फाइल फोटो, पीटीआई)

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सांसद बी श्रीरामुलु के दावों को पूरी तरह से खारिज नहीं किया है। भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे, माइनिंग माफिया जर्नादन रेड्डी के करीबी माने जाने वाले सांसद बी. श्रीरामुलु ने दावा किया था कि अगर भाजपा सत्ता में आती है तो वह उप मुख्यमंत्री बन सकते हैं। ये बिल्कुल वैसा ही है जैसा अमित शाह ने बेंगलुरु की प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों से कहा था। शाह ने कहा था, चुनाव नतीजे घोषित होने के बाद हम पार्टी की बैठक में ‘खुले दिल’ से इस पर चर्चा करेंगे। लेकिन शाह ने जोर देकर कहा था कि फिलहाल जनार्दन रेड्डी के लिए पार्टी के दरवाजे अभी बंद हैं।

क्यों खफा हुए अमित शाह : अमित शाह का ये सधा हुआ जवाब कर्नाटक के बेल्लारी से सांसद बी श्रीरामुलु के बयान के बाद आया है। अपने हाल ही के इंटरव्यू में भाजपा सांसद श्रीरामुलु ने कहा था कि वह बीएस येदियुरप्पा के डिप्टी बन सकते हैं अगर बीजेपी सत्ता में आती है। बी श्रीरामुलु का चुनाव नतीजों से पहले पार्टी के प्लान के बारे में बात करना अमित शाह को अखर गया है, शायद इसीलिए उन्होंने तल्ख जवाब के साथ बात को खत्म ​कर दिया। जबकि थोड़ी ही देर पहले उन्होंने कहा था कि भाजपा 130 से ज्यादा सीटों के साथ कर्नाटक की सत्ता में वापसी करने जा रही है। बाद में उन्होंने बीएस येदियुरप्पा को भी सहारा दिया और कहा कि वह 17 और 18 मई को मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं।

कौन हैं श्रीरामुलु : बी. श्रीरामुलु, तीन रेड्डी बंधुओं में एक गली जनार्दन रेड्डी के करीबी हैं। रेड्डी बंधुओं की मदद से ही भाजपा ने 2008 में पहली बार दक्षिण के किसी राज्य में जीत हासिल की थी। उस वक्त भाजपा बहुमत के आंकड़े से थोड़ी ही दूर थी, लेकिन रेड्डी बंधुओं के सहारे के बाद भाजपा ने बहुमत का जादुई आंकड़ा छू लिया था। चुनाव में, श्रीरामुलु दो सीटों से भाजपा के इकलौते उम्मीदवार हैं। उन्होंने दो सीटों से चुनाव लड़ा है। पहली दक्षिण कर्नाटक से मोलाकलमुरू सीट और दूसरी सीएम सिद्धरमैया की उत्तर कर्नाटक में मौजूद बादामी सीट। कांग्रेस अब श्रीरामुलु और उन बाकी उम्मीदवारों का जनार्दन रेड्डी कनेक्शन तलाश रही है। कांग्रेस भाजपा के स्वच्छ छवि वाली सरकार के दावों की हवा निकालना चाहती है।

दो रेड्डी भाई हैं भाजपा उम्मीदवार : वहीं भाजपा ने भी तीन रेड्डी बंधुओं में से दो जी. सोमशेखर रेड्डी और जी करूणाकर रेड्डी को टिकट दिए हैं। अमित शाह ने हालांकि ये बताने की कोशिश की है कि तीसरे भाई जनार्दन रेड्डी से उनका कोई ताल्लुक नहीं है। बता दें कि जनार्दन रेड्डी को 2015 में इस शर्त के साथ जेल से रिहा किया गया था कि वह बेल्लारी में प्रवेश नहीं करेंगे। शाह ने भी जनार्दन रेड्डी से पल्ला झाड़ने की कोशिश करते हुए कहा था कि रेड्डी से उनका कोई संबंध नहीं है।

जर्नादन रेड्डी ने किया था प्रचार : लेकिन कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया कि जनार्दन रेड्डी को अपने करीबियों और बी. श्रीरामुलु के लिए चुनाव में प्रचार भी कर रहा है। इस मामले पर भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा ने कहा थ कि हो सकता है कि जनार्दन रेड्डी बाहर से सिर्फ मदद कर रहा हो। लेकिन 12 मई को होने वाले चुनावों से पहले ही अमित शाह ने जोर देकर ये साफ कर दिया है कि भाजपा का जनार्दन रेड्डी से कोई लेना-देना नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App