ताज़ा खबर
 

कर्नाटक: येदियुरप्‍पा को नहीं मिला ‘लकी’ बंगला, समर्थक बोले- वास्‍तु से घबराए कुमारस्‍वामी

येदियुरप्पा के समर्थकों का आरोप है कि देवेगौड़ा ज्योतिष और वास्तु में जमकर विश्वास करते हैं। उन्हें भय था कि अगर कहीं येदियुरप्पा को बंगला नं. 2 दिया गया तो उसके वास्तु के प्रभाव से वह दोबारा प्रदेश के मुख्यमंत्री बन सकते हैं।

बीएस येदियुरप्पा (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

कर्नाटक विधानसभा में विपक्ष के नेता बीएस येदियुरप्पा ने जनता दल सेक्युलर और कांग्रेस गठबंधन की सरकार द्वारा दिया गया सरकारी बंगला लेने से इंकार कर दिया है। येदियुरप्पा ने सरकार से उस बंगले की मांग की थी, जिसमें वह बतौर मुख्यमंत्री साल 2011 तक रहा करते थे। लेकिन सरकार के द्वारा 30 जून को जारी किए गए सर्कुलर में इस बात का जिक्र किया गया है कि रेस कोर्स रोड पर बंगला नं. 4 भाजपा के वरिष्ठ नेता येदियुरप्पा को ​आवंटित कर दिया जाए। हालांकि येदियुरप्पा ने उसी बंगले से दो बंगले दूर बंगला नंबर 2 की मांग की थी।

अपनी पसंद का बंगला आवंटित न होने से नाराज येदियुरप्पा ने अपनी नाराजगी ये कहकर जताई कि जब तक मुख्यमंत्री मेरी इच्छा पूरी नहीं करेंगे, मैं सरकार का दिया हुआ बंगला नहीं लूंगा। मैं जब भी बेंगलुरु आऊंगा, मैं डॉलर्स कॉलोनी में बने अपने निजी निवास में रहना ज्यादा पसंद करूंगा।”  येदियुरप्पा ने अपने लिए भाग्यशाली माने जाने वाले बंगला नं. 2 की मांग की थी। बताया जाता है कि इसी बंगले में रहते हुए येदियुरप्पा ने इस बंगले के वास्तु को ध्यान में रखते हुए कई अहम बदलाव करवाए थे। सूत्रों के मुताबिक येदियुरप्पा को विश्वास है कि ये इस बंगले के वास्तु का ही चमत्कार था, जिसकी वजह से वह दूसरी बार सूबे के मुख्यमंत्री बन पाए।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 24990 MRP ₹ 30780 -19%
    ₹3750 Cashback
  • Lenovo K8 Plus 32GB Venom Black
    ₹ 8925 MRP ₹ 11999 -26%
    ₹446 Cashback
कर्नाटक विधानसभा में मुख्‍यमंत्री एचडी कुमारस्‍वामी। (Photo: PTI)

येदियुरप्पा के करीबी सूत्रों का मानना है कि पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा को बंगला नं. 4 देने का सुझाव मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को उनके पिता, पूर्व प्रधानमंत्री और जेडी एस सुप्रीमो एचडी देवेगौड़ा ने दिया है। येदियुरप्पा के समर्थकों का आरोप है कि देवेगौड़ा ज्योतिष और वास्तु में जमकर विश्वास करते हैं। उन्हें भय था कि अगर कहीं येदियुरप्पा को बंगला नं. 2 दिया गया तो उसके वास्तु के प्रभाव से वह दोबारा प्रदेश के मुख्यमंत्री बन सकते हैं। इसीलिए देवगौड़ा की सलाह पर मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने भाजपा नेता येदियुरप्पा को बंगला तो दिया लेकिन उनकी पसंद का नहीं। येदियुरप्पा के बंगला छोड़ने के बाद उनके बंगले रेस व्यू कॉटेज में पूर्व पर्यावरण मंत्री बी. रामनाथ राय ने अपना निवास बनाया। उनके बाद इसे पर्यावरण मंत्री सा रा महेश को दे दिया गया। विपक्ष के नेता के तौर पर येदियुरप्पा कैबिनेट मंत्री का दर्जा रखते हैं और उन्हें सरकारी बंगला पाने का अधिकार दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App