बेंगलुरु: हाइवे पर पति होने का दावा कर दो मर्द लड़ते रहे, महिला तीसरे शख्‍स के साथ चली गई - Two man fight for a married woman in Bengaluru lady walks with another man Bengaluru police settle matter - Jansatta
ताज़ा खबर
 

बेंगलुरु: हाइवे पर पति होने का दावा कर दो मर्द लड़ते रहे, महिला तीसरे शख्‍स के साथ चली गई

इस बीच शशिकला जिस गारमेंट फैक्ट्री में काम करती थी, वहां सिद्दाराजू नाम के कैब ड्राइवर से उसकी मुलाकात हुई, सिद्दाराजू ने शशिकला को शादी का प्रस्ताव दिया। पुलिस ने कहा कि चूंकि मूर्ति शादीशुदा था और सिद्दाराजू की शादी नहीं हुई थी, इसलिए शशिकला ने सिद्दाराजू से शादी की बात को स्वीकार कर लिया।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एक सड़क पर गुजर रहे राहगीरों को शनिवार (5 अगस्त) को अजीब दृश्य देखने को मिला। यहां पर दो शख्स एक महिला के लिए लड़ रहे थे। महिला भी मौके पर मौजूद थी। दोनों ही मर्द महिला पर अपना दावा जता रहे थे। आम तौर पर महिला को इन दोनों में से किसी एक के पास जाना चाहिए था। लेकिन रुकिए… कहानी यहीं खत्म नहीं होती है। इस झगड़े का क्लाईमैक्स और भी फनी और फिल्मी था। मौके पर पुलिस पहुंची। तीनों के बयान लिये गये। तो 38 साल की महिला ने कहा कि उसकी शादी इन दोनों में से किसी से नहीं हुई है। बल्कि वो किसी और की है। आखिरकार महिला अपने किसी तीसरे ‘दोस्त’ के साथ चली गई। सड़क पर खड़े लोगों ने ये मजमा मजा ले-लेकर देखा। हर घटना को फिल्माने के शौकीन कुछ लोगों ने पूरे वाकये का वीडियो भी बना डाला।

घटना शनिवार (4 अगस्त) को 11 बजे नेशनल हाईवे 48 पर (बेंगलुरु-पुणे) हुई। यहां पर तुमाकुरु और नेलमंगला के बीच एक गांव पड़ता है। इसके बावीकेरे क्रास के पास पूरा वाकया हुआ। पुलिस का कहना है कि महिला की पहचान शशिकला के रुप में हुई है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक ये महिला चिक्काबिदारुकुल्लू मूर्ति नाम के शख्स के साथ रह रही थी। मूर्ति पेशे से ट्रैक्टर ड्राइवर है। पुलिस ने कहा, “साल 2000 में शशिकला की शादी रंगास्वामी नाम के शख्स के साथ हुई थी, 2010 में इनकी शादी टूट गई…इसके बाद शशिकला रमेश कुमार नाम के एक शख्स के साथ रहने लगी, रमेश कुमार कपड़े की एक फैक्ट्री में सुपरवाइजर है, 2015 में उसे एक और शख्स मिल गया, लेकिन वह 6 महीने में ही इससे अलग हो गई, 2017 से शशिकला मूर्ति के साथ रह रही थी, लेकिन मूर्ति शादीशुदा शख्स है और उसके दो बच्चे हैं।”

इस बीच शशिकला जिस गारमेंट फैक्ट्री में काम करती थी, वहां सिद्दाराजू नाम के कैब ड्राइवर से उसकी मुलाकात हुई, सिद्दाराजू ने शशिकला को शादी का प्रस्ताव दिया। पुलिस ने कहा कि चूंकि मूर्ति शादीशुदा था और सिद्दाराजू की शादी नहीं हुई थी, इसलिए शशिकला ने सिद्दाराजू से शादी की बात को स्वीकार कर लिया। शनिवार को शशिकला सिद्दाराजू के साथ बस स्टैंड के पास खड़ी थी, तभी मूर्ति ने आकर उसपर हमला कर दिया। जब सिद्दाराजू और मूर्ति आपस में लड़ रहे थे, तो कई लोगों ने उन्हें रोकने की कोशिश की। इनकी लड़ाई तभी रूकी जब नेलमंगला पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस तीनों को थाने में ले गई। शशिकला ने पुलिस से कहा, “दोनों मेरे दोस्त हैं, लेकिन दोनों एक दूसरे से जलते हैं।” जब पुलिस से पूछा गया कि क्या वो इन दोनों में से किसी एक से शादी करेगी, तो शशिकला ने ना में जवाब दिया। तब तक वहां एक तीसरा शख्स पहुंचा था। इस शख्स ने दावा किया कि वो शशिकला का दोस्त है। बाद में शशिकला इस शख्स के साथ चली गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App