ताज़ा खबर
 

VIDEO: कांग्रेस की किरकिरी, सीट के लिए आपस में भिड़ गए पार्टी नेता

राज्य में कांग्रेस नेताओं की बीच मतभेद से पार्टी मुश्किलों में घिर सकती है। पहले ही जेडीयू और कांग्रेस गठबंधन के बीच मतभेद सामने आ चुके हैं। पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया भी दोबारा मुख्यमंत्री बनने की इच्छा जता चुके हैं।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

सोशल मीडिया में कांग्रेस नेताओं से जुड़ा एक वीडियो वायरल होने पर पार्टी की खासी किरकरी हो रही है। वायरल वीडियो कर्नाटक का बताया जाता है और दावा है कि वीडियो में कांग्रेस नेता सीट के लिए सार्वजनिक तौर पर आपस में झगड़ने लगे। दरअसल कर्नाटक के बेलागवी में सार्वजनिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें कांग्रेस के कई दिग्गज नेता पहुंचे। मगर नेताओं के बीच तब विवाद खासा बढ़ गया जब कुछ नेता सीट पर बैठने को लेकर आपस में ही झगड़ने लगे। खास बात यह है कि इस दौरान कर्नाटक कांग्रेस चीफ दिनेश गुंडु राव मौजूद थे। हालांकि बाद में कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष पूर्व विधायक को सांत्वना देते नजर आए। खबर है कि पूर्व विधायक सीटिंग अरेंजमेंट को लेकर खुश नहीं थे। राज्य में कांग्रेस नेताओं की बीच मतभेद से पार्टी मुश्किलों में घिर सकती है। पहले ही जेडीयू और कांग्रेस गठबंधन के बीच मतभेद सामने आ चुके हैं। पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया भी दोबारा मुख्यमंत्री बनने की इच्छा जता चुके हैं।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback
  • Jivi Energy E12 8 GB (White)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹0 Cashback

इसपर कर्नाटक के मौजूदा मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी कह चुके हैं कि उनकी सरकार को गिराने की कोशिश चल रही हैं। उनका यह बयान पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धारमैया के उस बयान के एक दिन बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि वे एक बार फिर से मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। कुमार स्वामी ने कहा कि, “मैं इस बात से अवगत हूं कि मेरी सरकार को अस्थिर करने का षडयंत्र रचा जा रहा है। हालांकि, मैं अपनी सरकार बचाने की कोशिश नहीं करूंगा, बल्कि अच्छे कार्यों पर अपना ध्यान केंद्रित करूंगा।”

सिद्धारमैया की इस टिप्पणी के बाद ‘वह एक बार फिर मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं’, राजनीतिक गलियारों में कुमारस्वामी की सरकार गिरने की अटकलें तेज हो गई हैं। इन अटकलों के तेज होने के बाद मैसूर में सिद्दारमैया ने कहा कि, “मेरे कहने का मतलब यह था कि यदि जनता का आशिर्वाद मुझे मिलता है, तब मैं मुख्यमंत्री बनूंगा। यह पांच साल बाद ही संभव है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App