X

सत्‍ता के 100 दिन पूरा होने पर दिल्‍ली पहुंचे कुमारास्‍वामी, बोले- कर्नाटक सरकार के कामकाज से खुश हैं राहुल गांधी

कुमारस्वामी की राहुल गांधी से मुलाकात के अलावा सिद्धरमैया को फिर से मुख्यमंत्री बनाने के कांग्रेसी नेताओं के एक धड़े की मांग के बीच, कांग्रेस-जेडीएस समन्वय समिति की बैठक यहां 31 अगस्त को आयोजित होगी।

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन में कथित तौर पर अस्थिरता के बीच मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने गुरुवार (30 अगस्त, 2018) को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की है। मुलाकात के बाद सीएम कुमारस्वामी ने कहा, ‘आज कर्नाटक में मेरी सरकार ने 100 दिन पूरे कर लिए हैं। इसलिए मैं राहुल गांधी का आभार प्रकट करने के लिए यहां पहुंचा हूं। जिस तरह से कर्नाटक सरकार चल रही है उससे कांग्रेस अध्यक्ष बहुत खुश हैं। हमारी सरकार सक्षम है और सुचारू रूप से काम कर रही है।’ बता दें कि पूर्व में कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने दोबारा राज्य का मुख्यमंत्री बनने की इच्छा प्रकट की थी। इससे कयास जाने लगे कि कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। इस विवाद को तब और ज्यादा हवा मिली जब भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने अगले 15 के भीतर कर्नाटक सरकार गिरने की बात कही थी। उन्होंने कहा कि पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने फैसला कर लिया है कि वह कुमारस्वामी की सरकार से अपना समर्थन वापस लेंगे। इसलिए सिर्फ औपचारिकता बची है कि सरकार कब गिरेगी।

बता दें कि कुमारस्वामी की राहुल गांधी से मुलाकात के अलावा सिद्धरमैया को फिर से मुख्यमंत्री बनाने के कांग्रेसी नेताओं के एक धड़े की मांग के बीच, कांग्रेस-जेडीएस समन्वय समिति की बैठक यहां 31 अगस्त को आयोजित होगी। मई में हुए विधानसभा चुनावों में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति बनने पर गठबंधन सरकार के गठन के बाद से समन्वय समिति की यह तीसरी बैठक होगी। जेडीएस महासचिव दानिश अली ने कहा, ‘‘समन्वय समिति की अगली बैठक 31 अगस्त को होगी।’ समिति की बैठक हंगामेदार होने की संभावना है क्योंकि गठबंधन सहयोगियों के बीच सरकार के गठन के कुछ महीने बाद से ही गतिरोध दिखना शुरू हो गया है।

कांग्रेस के एक सूत्र ने कहा कि समिति गठबंधन सरकार के न्यूनतम साझा कार्यक्रम, इसके क्रियान्वयन पर एक पुस्तिका लाने पर विचार करेगी और इन परियोजनाओं पर विचार विमर्श किया जाएगा। पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेसी नेता सिद्धरमैया के इस कथित बयान को लेकर हाल की घटनाओं में भी चर्चा हो सकती है जिसमें उन्होंने कुछ दिन पहले कहा था कि वह फिर से मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। सिद्धरमैया के बयान पर बवाल खड़ा होने के बाद उन्होंने स्पष्टीकरण दिया था कि वह अभी नहीं बल्कि पांच साल बाद पद संभालना चाहते हैं। (एजेंसी इनपुट सहित)

  • Tags: karnataka news,