ताज़ा खबर
 

पुलिसवाले की मां पर हमला करने वाली गाय बनी ‘मोस्ट वॉन्डेट’, शहर भर में हो रही तलाश

भाग्यम्मा नाम की महिला करीब 2.30 बजे अपनी पोती को स्कूल से लेकर आ रही थी। उसी दौरान गाय ने उन पर हमला कर दिया और जमीन में गिरा दिया।

Author बेंगलुरु | January 29, 2017 1:22 PM
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एक गाय को ढूंढने के लिए पुलिस महकमा सक्रिया हो गया है। खाकी पहनने वाले पुलिस वाले गाय को पकड़ने के लिए अडुगोदी इलाके में खोजबीन कर रहे हैं। दरअसल गाय ने एक पुलिस हेड कॉन्सटेबल की मां पर हमला कर दिया था। जिसके बाद गाय की तलाश की जा रही है। 55 साल की महिला को पुलिस क्वॉर्टर्स के पास गाय ने हमला कर दिया था, जिसके बाद से अडुगोदी पुलिस उसकी तलाश कर रही है। हमले के बाद महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। महिला का बेटा पुलिस में हेड कॉन्सटेबल है।

बेंगलुरु मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक अडुगोदी और उसके आसपास के इलाके- लालजी नगर, विनायकनगर, अयप्पा गार्डेन और महालिंगेश्वर में कई गाय घूमती रहती है। पुलिस ने इस इलाके में उस गाय की तलाश कर रही है, जिसमे भाग्यम्मा नाम की महिला को मारने वाली गाय की तलाश कर रही है। कुछ दिन पहले भाग्यम्मा नाम की महिला करीब 2.30 बजे अपनी पोती को स्कूल से लेकर आ रही थी। उसी दौरान गाय ने उन पर हमला कर दिया और जमीन में गिरा दिया। इसके बाद पैरों से हमला किया। इससे पहले के सिर से खून बहने लगे। हमले में घायल हुई महिला ने मदद की अपील की। जिसे देखकर लोगों ने महिला को बचाया। इसी दौरान पुलिस में तैनात उनका बेटा पी राजू वहां पहुंच गया और भीड़ देखकर जब पास गया तो उसकी मां खून से लथपथ नजर आईं। जिसके बाद उसने मां को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनका इलाज चल रहा है।

पुलिसकर्मी पी राजू ने बताया कि मां को डिस्चार्ज कर दिया गया और अब वह सही हैं। उन्होंने इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई है ताकि पुलिस गाय को पकड़कर उसके मालिक को सजा दे सके। पुलिस ने आईपीसी की धारा 337 में गाय के मालिक के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। एक पुलिस अधिकारी का कहना है कि जमीन में गिरने और चेहरा कवर करने की वजह से महिला गाय को उसी तरीके से नहीं देख पाई। पुलिस ने की गाय की पहचान के लिए कुछ गायों की पहचान परेड भी कराई गई।

वीडियो: मोहन भागवत ने गौ रक्षकों का समर्थन किया, कहा- ‘गौ रक्षा संविधान का अभिन्न हिस्सा है’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App