ताज़ा खबर
 

बेंगलुरु: ज्यादा पानी यूज करने पर अरुणाचल प्रदेश के छात्र से मारपीट, चटवाए जूते, मकान मालिक गिरफ्तार

छात्र के साथ मारपीट ज्यादा पानी इस्तेमाल करने पर की गई है। पुलिस ने मकान मालिक को गिरफ्तार कर लिया है।
अरुणाचल प्रदेश के रहने वाले छात्र हिगियो तामा (Photo Source: ANI)

अरुणाचल प्रदेश के छात्र हिगियो तामा के साथ बेंगलुरु में कथित तौर पर मारपीट हुई है और उसे मकान मालिक के जूते चाटने के लिए मजबूर किया गया। छात्र के साथ मारपीट की यह घटना 6 मार्च की है। छात्र के साथ मारपीट ज्यादा पानी इस्तेमाल करने की वजह से की गई है। सोमवार को पुलिस ने मकान मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने भी इस घटना पर दुख जताया है और कहा है कि दोषियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। सिद्धारमैया ने ट्वीट किया, ‘अरुणाचल के छात्र पर हमला हैरान कर देने वाला है। पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है और दोषियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।’

न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक तामा ने कहा, ‘मेरे और मेरे परिवार के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल करने पर उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज क्यों नहीं हो सकता। हम तीन लड़के एक साथ रहते थे, हमारे साथ 6 मार्च को मारपीट की गई। मैं आज दूसरी बार मकान मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने जा रहा हूं।’

साथ ही उसने बताया, ‘मैंने केवल पांच मिनट के लिए पानी इस्तेमाल किया था और मैंने इसके लिए मकान मालिक से माफी भी मांगी थी। उसने मेरे साथ मारपीट शुरू कर दी। उसने मुझे जूते चाटने के लिए मजबूर किया।’

तामा के पिता का कहना है कि उन्हें बेंगलुरु पुलिस पर भरोसा है और दोषियों को सजा मिलेगी। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू भी अरुणाचल प्रदेश से हैं। उन्होंने सोमवार को इस घटना को ‘दुखदायी’ करार दिया। उन्होंने कहा पुलिस जांच के अलावा गृह मंत्रालय भी इस मामले पर नजर रखे हुए है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘मेरा ऑफिस इस मामले को देख रहा है। जब हम लोग विदेश में भारतीय लोगों की सुरक्षा की बात कर रहे हैं, ऐसे में हमारे देश में ही ऐसी घटनाएं दुखदायी हैं। पुलिस ने कार्रवाई की है लेकिन पूरे समाज को इसकी जिम्मेदारी लेना चाहिए।’

वीडियो- केरल: मॉरल पुलिसिंग से प्रताड़ित युवक ने की आत्महत्या, वेलेंटाइन डे के दिन की गई थी मारपीट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. चक्रपाणि पांडेय
    Mar 13, 2017 at 5:41 pm
    हिमिगोतामा के साथ दुर्व्यवहार की घटना निन्दनीय व घृृणित ःहै. अपराधी को कठोर दण्ड मिलना चाहिए. जो इंसान को इन्सान न समझे उसके साथ कठोर कार्यवाही होनी चाहिए. समाज से मानवता की भावना का क्षरण चिंतनीय है.
    (0)(0)
    Reply