ताज़ा खबर
 

कोरोनाः कर्नाटक के अस्पताल में 24 मरीजों की मौत, प्रदर्शन कर परिजन का आरोप- ऑक्सीजन की कमी थी

पीड़ित परिजन का आरोप है कि ऑक्सीजन सप्लाई बाधित होने के कारण उनके प्रियजन की जान गई। मामला जिला अस्पताल का बताया जा रहा है।

Author बेंगलुरू | Updated: May 3, 2021 1:53 PM
Oxygen Cylinders, Coronavirus, COVID-19भारत में कोरोना की दूसरी लहर के बीच मेडिकल ऑक्सीजन का संकट भी काफी गहराया है। अस्पताल बेहाल हैं और ऑक्सीजन के लिए उन्हें सरकारों के सामने हाथ फैलाने पड़ रहे हैं। (फाइल फोटोः पीटीआई)

कर्नाटक के चामराजनगर में जिला अस्पताल में कथित तौर पर ऑक्सीजन की कमी के चलते पिछले 24 घंटों में 24 मरीजों की मौत हो गई है। अधिकारियों ने बताया कि मृतकों में कोविड-19 के 23 मरीज भी हैं।

चामराजनगर जिला अस्पताल में मातम पसरा हुआ है जहां खबर सुनने के बाद मृतकों के परिजन रोते-बिलखते नजर आए। मृतकों के परिवारों ने अस्पताल में प्रदर्शन भी किया और आरोप लगाया कि यहां ऑक्सीजन की कमी थी और वहां नारेबाजी की। चामराजनगर जिला प्रभारी मंत्री एस सुरेश कुमार ने कहा कि उन्होंने घटना में जिला प्रशासन से मौत की ऑडिट रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है। वह इस बात पर कायम रहे कि सभी मौतें ऑक्सीजन की कमी की वजह से नहीं हुई हैं।

कुमार ने यहां संवाददाताओं से कहा, “यह कहना सही नहीं होगा कि सभी 24 मौत ऑक्सीजन की कमी की वजह से हुई हैं। ये मौतें रविवार सुबह से आज सुबह तक हुई हैं। ऑक्सीजन की कमी रविवार देर रात 12:30 बजे से 2:30 के बीच हुई थी।” मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने भी जिला के उपायुक्त से घटना के बारे में सूचना प्राप्त की है।

सुरेश कुमार ने कहा कि मौत की ऑडिट रिपोर्ट से पता चलेगा कि ये मरीज किस बीमारी से ग्रस्त थे, उन्हें कोई और गंभीर बीमारियां थी और उन्हें किसी स्थिति में अस्पताल लाया गया था। उन्होंने कहा, “जितने भी लोगों की मौत हुई है जरूरी नहीं कि सभी की मौत ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई हो।”

Karnataka Oxygen, Coronavirus, National News जिला अस्पताल के बाहर रोते-बिलखते परिजन। (फोटोः ANI)

उन्होंने आगे कहा कि 6,000 लीटर तरल चिकित्सीय ऑक्सीजन थी लेकिन ऑक्सीजन सिलेंडरों की जरूरत थी। कुमार ने कहा, “ये सिलेंडर मैसुरु से आने वाले थे लेकिन कुछ समस्या हो गई।” उन्होंने कहा कि उन्होंने यह स्थिति राज्य के मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री के निजी सचिव और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रताप रेड्डी को भी समझाई जो राज्य में ऑक्सीजन आपूर्ति के प्रभारी हैं।

कुमार ने कहा, “मैंने अधिकारियों को चामराजनगर जिले में ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए स्थायी समाधान खोजने को भी कहा है। मैसुरू में जरूर ही समस्या है लेकिन मैसुरु से चामराजनगर और मांड्या में ऑक्सीजन की आपूर्ति बाधित नहीं होनी चाहिए।” मरीजों की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए, मंत्री ने कहा कि वह स्थिति का जायजा लेने के लिए चामराजनगर जाएंगे।

उधर, कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने उक्त जिला कलेक्टर से घटना को लेकर बात की है। उन्होंने मंगलवार को एक कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई है।

Next Stories
1 पंचायत चुनाव की “मतगणना के बीच” ही UP में 2 दिन और बढ़ा आंशिक कर्फ्यू, अब 6 तारीख तक रहेगी बंदी
2 राहत बनी आफत
3 बंगाल में टीएमसी की जीत के बाद बोलीं ममता बनर्जी, जीतने के लिए दंगा भी करवा सकते हैं मोदी, मुझे डर नहीं लगता
ये पढ़ा क्या?
X