ताज़ा खबर
 

मुंबई छोड़ गोवा की सैर पर निकले कर्नाटक के बागी विधायक, कांग्रेस बोली- BJP का पेट हुआ कश्मीरी गेट, भरता ही नहीं

बीजेपी पर आरोप लगाते हुए चौधरी ने कहा, 'लोकसभा चुनाव में 303 सांसद जीतने के बाद भी आपका पेट नहीं भरा है। आपका पेट, कश्मीरी गेट के बराबर हो गया है।' उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी को पसंद नहीं कि कहीं भी विपक्ष की सरकार रहे।

Author बेंगलुरु | July 9, 2019 5:33 AM
अधीर रंजन चौधरी (फोटो सोर्स – ANI)

कर्नाटक में इस्तीफा सौंप चुके जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के बागी विधायक सोमवार (8 जुलाई) को मुंबई छोड़ गोवा के लिये रवाना हो गए। कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर अब सबकी निगाहें गोवा पर टिक गई हैं। सूत्रों ने कहा कांग्रेस के 10, जेडीएस के 2 और 2 निर्दलीय विधायक शाम के समय गोवा के लिये रवाना हो गए। उनके साथ मुंबई बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष मोहित भारतीय भी हैं।

सूत्रों ने कहा कि महाराष्ट्र बीजेपी के विधायक प्रसाद लाड ने कहा कि 14 विधायक उपनगरीय बांद्रा के एक आलीशान होटल से शाम पांच बजे रवाना हो गए। उनके गोवा में एक रिजॉर्ट में रूकने की संभावना है। गौरतलब है कि 12 विधायक शनिवार शाम जबकि दो विधायक सोमवार को मुंबई पहुंचे थे। कर्नाटक की एक साल पुरानी कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार पर इन विधायकों के इस्तीफा देने के बाद संकट के बादल मंडरा रहे हैं। कर्नाटक विधानसभा में एक मनोनीत विधायक समेत 225 सदस्य हैं। विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 113 है।

इधर कर्नाटक का मसला लोकसभा में भी उठा। शून्यकाल में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने आरोप लगाया कि मध्य प्रदेश और कर्नाटक की राज्य सरकारों को तोड़ने के लिए दल बदल कराने का काम किया जा रहा है। बीजेपी पर आरोप लगाते हुए चौधरी ने कहा, ‘लोकसभा चुनाव में 303 सांसद जीतने के बाद भी आपका पेट नहीं भरा है। आपका पेट, कश्मीरी गेट के बराबर हो गया है।’ उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी को पसंद नहीं कि कहीं भी विपक्ष की सरकार रहे।

चौधरी ने आरोप लगाया कि कर्नाटक में कांग्रेस विधायकों को प्रलोभन देकर दल बदल कराया जा रहा है और उन्हें चार्टर्ड विमान में ले जाकर मुंबई के पांच सितारा होटल में ठहराया जा रहा है। उन्होंने इसके पीछे ‘सुनियोजित साजिश’ होने का दावा करते हुए कहा कि इस बारे में जब सवाल उठेगा तो बीजेपी कह सकती है कि आपके विधायक आपके साथ नहीं रहे तो हम क्या करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App