ताज़ा खबर
 

टेंडर नहीं मिला तो ऑफिस में घुसकर लोकायुक्त पर कर दिया चाकू से हमला, गिरफ्तार

शेट्टी को लोकायुक्त कार्यालय द्वारा बताया गया कि जांच के बाद मामला बंद कर दिया गया। मुख्यमंत्री के अनुसार, शेट्टी के पेट में गंभीर जख्म पहुंचे हैं। उन्होंने कहा, मैंने उनके इलाज के सिलसिले में डॉक्टरों से बात की। उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने बताया है कि प्रथमदृष्टया वे खतरे से बाहर हैं।

Author March 8, 2018 4:46 AM
कर्नाटक के लोकायुक्त पी विश्वनाथ शेट्टी।(फाइल फोटो)

कर्नाटक के लोकायुक्त पी विश्वनाथ शेट्टी पर बुधवार को एक व्यक्ति ने चाकू से कई बार वार कर उन्हें बुरी तरह लहूलुहान कर दिया। शेट्टी को तुरंत पास के एक अस्पताल में ले जाया गया। उनकी हालत खतरे से बाहर बता गई है। उनकी उम्र सत्तर वर्ष से अधिक है। अधिकारियों और चश्मदीद गवाहों के अनुसार, विधानसौध या राज्य सचिवालय के समीप बहुमंजिले भवन में स्थित लोकायुक्त कार्यालय में तेजराज शर्मा ने शेट्टी पर हमला किया जिससे वे बेहोश हो गए। माल्या अस्पताल जाकर शेट्टी की स्थिति के बारे में पता कर चुके मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने बताया कि शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि शर्मा शेट्टी के कार्यालय गया था और उसने उनके शरीर पर तीन-चार जगह चाकू घोंप दिया। उसने लोकायुक्त से शिकायत की थी कि उसने जिस काम के लिए आवेदन दे रखा है, उसे उसकी निविदा नहीं मिली।

शेट्टी को लोकायुक्त कार्यालय द्वारा बताया गया कि जांच के बाद मामला बंद कर दिया गया। मुख्यमंत्री के अनुसार, शेट्टी के पेट में गंभीर जख्म पहुंचे हैं। उन्होंने कहा, मैंने उनके इलाज के सिलसिले में डॉक्टरों से बात की। उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने बताया है कि प्रथमदृष्टया वे खतरे से बाहर हैं। उन्होंने कहा कि हमलावर यह कहते हुए कार्यालय आया कि वह शेट्टी से मिलना चाहता है और चैंबर में घुसने के बाद उसने चाकू से उन पर हमला कर दिया। सिद्धरमैया ने कहा, मुझे हथियार दिखाया गया। चाकू बड़ा है। ऐसा जान पड़ता है कि उसने हत्या करने की कोशिश की है। उन्होंने कहा, मैं उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। ऐसी बात कभी नहीं हुई… मैंने पुलिस महानिदेशक से विस्तार से उसकी पृष्ठभूमि और अन्य चीजों की जांच करने को कहा है। सुरक्षा उल्लंघन की खबरों पर उन्होंने कहा कि उन्होंने पुलिस से इस पर गौर करने और जरूरी कदम उठाने को कहा है। उन्होंने कहा कि सामान्यतया जो लोग लोकायुक्त से मिलने आते हैं, उन्हें अंदर भेजे जाने से पहले चिट दी जाती है।

मुख्यमंत्री ने कहा, कई लोग हमसे भी मिलने आते हैं, हमें नहीं पता होता है कि कौन हथियार के साथ आया है। उन्होंने कहा कि शेट्टी के चैंबर के बाहर बंदूकधारी खड़ा है और सीसीटीवी भी लगे हैं। शर्मा अकेले लोकायुक्त चैंबर में गया था। राज्य के गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने कहा था, मेरे पास जो सूचना है, उसके मुताबिक वकील होने का दावा करने वाला एक व्यक्ति लोकायुक्त कार्यालय गया था और उसने उन पर चाकू से वार किया। शेट्टी कर्नाटक उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश हैं। वे जनवरी 2017 में राज्य के लोकायुक्त बने थे। उन्होंने वाई भास्कर राव की जगह ली थी जो उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App