Karnataka Excise Minister HY Meti resigns over sex scandal allegations - Jansatta
ताज़ा खबर
 

सेक्स सीडी स्कैंडल में फंसे कर्नाटक के वरिष्ठ मंत्री, पद से दिया इस्तीफा

कथित सेक्स सीडी स्कैंडल में आरोपों से घिरे कर्नाटक के आबकारी मंत्री एच वाई मेती ने आज इस्तीफा दे दिया।

Author बंगलूरू | December 14, 2016 5:21 PM
कथित सेक्स सीडी स्कैंडल में आरोपों से घिरे कर्नाटक के आबकारी मंत्री एच वाई मेती ने आज इस्तीफा दे दिया।

कथित सेक्स सीडी स्कैंडल में आरोपों से घिरे कर्नाटक के आबकारी मंत्री एच वाई मेती ने आज इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कोई गलत काम करने से इनकार करते हुए कहा कि उन्होंने सिद्धरमैया सरकार को शर्मिंदगी से बचाने के लिए इस्तीफा दिया है। विवाद के गहराने और विपक्ष की मेती को हटाने की मांग के बाद मेती ने मुख्यमंत्री सिद्धरमैया से मुलाकात की और अपना इस्तीफा दे दिया। सिद्धरमैया ने ट्वीट किया, ‘‘आबकारी मंत्री एच वाई मेती ने इस्तीफा दे दिया है। मैंने माननीय राज्यपाल से सिफारिश की है कि वे इस्तीफा स्वीकार कर लें। मैंने जांच के आदेश भी दे दिए हैं।’

मेती ने मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद संवाददाताओं को बताया, ‘मैंने सरकार और मुख्यमंत्री को किसी भी शर्मिंदगी से बचाने के लिए अपनी मर्जी से इस्तीफा दे दिया है।’ अपने खिलाफ लगे आरोपों को खारिज करते हुए 71 वर्षीय मेती ने कहा, ‘‘मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है। मैंने मुख्यमंत्री से जांच करवाने का अनुरोध किया है।’ मेती उस समय विवादों से घिर गए थे, जब एक आरटीआई कार्यकर्ता राजशेखर मुलाली ने अपने पास एक ऐसी सीडी होने का दावा किया था, जिसमें मेती मदद मांगने आई एक महिला के साथ कथित तौर एक अभद्र गतिविधि में लिप्त दिखाई दे रहे हैं।

कार्यकर्ता ने यह भी दावा किया था कि मेती के कुछ समर्थकों ने सीडी के मुद्दे पर उन्हें धमकाया था। मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिए जाने तक यह सीडी जारी नहीं की गई थी। हालांकि इस कथित सेक्स सीडी से जुड़ा एक आॅडियो टेप सामने आया था, जिसमें एक व्यक्ति खुद को मेती का समर्थक बताते हुए आरटीआई कार्यकर्ता को धमकाते हुए सुना जा रहा है। मेती ने पहले कहा था, ‘‘टीवी चैनलों पर आ रही सभी खबरें झूठी हैं। मैं नहीं जानता कि यह आरटीआई कार्यकर्ता कौन है। मैंने उसे आज टीवी पर ही देखा है। मेरे किसी भी समर्थक ने किसी को धमकाया नहीं है। जिस भाषा का वे इस्तेमाल कर रहे हैं, वह उत्तर कर्नाटक में नहीं बोली जाती।’

मेती ने यह भी कहा था कि वह नहीं जानते कि सीडी के पीछे किसका हाथ है। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा कोई दुश्मन नहीं है’’। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उनका इरादा पुलिस में शिकायत दर्ज कराने का नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें वीडियो पेश करने दीजिए और पहले आरोप साबित करने दीजिए। इसके बाद मैं जरूरी कदम उठाउंच्च्गा, फिर चाहे वह पुलिस में शिकायत दर्ज कराना हो या कुछ और।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App