ताज़ा खबर
 

कर्नाटकः PM मोदी से कांग्रेस नेता सुरजेवाला का सवाल- क्या BJP के ‘जेब की दुकान’ है सुप्रीम कोर्ट?

सुरजेवाला ने पूछा- कर्नाटक बीजेपी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा पर सवाल उठाते हुए पूछा- 'किस हैसियत से वे केस के संबंध में सुप्रीम कोर्ट के जजों तक पहुंचने की बात कर रहे हैं?

Author Updated: February 9, 2019 11:55 AM
कांग्रेस नेता- रणदीप सुरजेवाला फोटो सोर्सः ANI

कर्नाटक में सियासी उथल-पुथल के बीच कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कर्नाटक बीजेपी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा पर सवाल उठाते हुए पूछा- ‘किस हैसियत से वे केस के संबंध में सुप्रीम कोर्ट के जजों से केस ठीक करवाने की बात कर रहे हैं? क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें भरोसा दिलाया है? क्या सुप्रीम कोर्ट अब बीजेपी की जेबी दुकान बन गई है।

सुरजेवाला ने कहा, ‘भ्रष्टाचार की परतें सीधे प्रधानमंत्री के दरवाजे तक पहुंच रही है। मोदीजी, शाहजी और येदियुरप्पा की बदनाम तिकड़ी ने देश में संविधान और प्रजातंत्र को रौंद डाला है। सत्ता की हवस में अंधे होकर ये ऐसा गैंग ऑफ थ्री बन गए हैं जिसका एकमात्र लक्ष्य किसी भी कीमत सत्ता हथियाना ही लक्ष्य है। चाहे संविधान के परखच्चे उड़ा दिए जाएं। खरीद-फरोख्त में न सिर्फ येदियुरप्पा का नाम है, बल्कि अब पीएम मोदी और अमित शाह की भूमिका सीधे-सीधे संदेह नहीं यकीन के घेरे में आ गई है। कालाधन का प्रयोग कर ये तीनों चुनी हुई कर्नाटक सरकार को गिराना चाहते हैं।’

4

सुरजेवाला के सवालः ऑडियो क्लिप के हवाले से कांग्रेस से प्रवक्ता ने भाजपा से पूछा कि…

– क्या ये वही काला धन है जिसकी चर्चा मोदी जी ने संसद के पटल पर की थी?

– मोदी जी क्या ये प्रजातंत्र का न्यू इंडिया मॉडल है जिसमें आप विधायकों को प्रलोभन देकर चुनी हुई सरकार गिराएंगे?

– ये सैकड़ों करोड़ की राशि कहां से आ रही है? यह बीजेपी कार्यालय से आएगा या कोई और जुगत भिड़ाई जा रही है?

– प्राथमिक दृष्टि से क्लिप में बीएस येदियुरप्पा की आवाज सुनाई दे रही है? क्या मोदी सरकार उनके खिलाफ ईडी और सीबीआई जांच कराएगी?

– क्या बीजेपी सुप्रीम कोर्ट की निष्पक्षता पर सवाल खड़े नहीं कर रही? संविधान की रक्षा का जिम्मा सुप्रीम कोर्ट के पास है।

– क्या सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश को इस टेप पर स्वतः संज्ञान लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सभी आरोपी भाजपा नेताओं को नोटिस जारी नहीं
करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कर्नाटक: कांग्रेस के नौ विधायकों ने की व्हिप की अनदेखी, नहीं पहुंचे असेंबली, भाजपाइयों ने गवर्नर को रोका
2 कर्नाटकः मैसूरु में हवन के दौरान फटे हीलियम से भरे गुब्बारे, तीन झुलसे