ताज़ा खबर
 

सिद्धारमैया ने स्‍वागत करते हुए कसा था तंज, 4 घंटे बाद योगी आदित्‍यनाथ ने ट्विटर पर ही दिया जवाब

सिद्धारमैया ने ट्विटर पर योगी आदित्यनाथ का कर्नाटक में स्वागत करते हुए तंज कसा तो यूपी सीएम ने भी जमकर पलटवार किया।
कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया और यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्विटर के माध्यम से एक-दूसरे पर जमकर निशाना साधा। सिद्धारमैया ने ट्विटर पर योगी आदित्यनाथ का कर्नाटक में स्वागत करते हुए तंज कसा तो यूपी सीएम ने भी जमकर पलटवार किया। कर्नाटक के सीएम ने कहा, ‘मैं यूपी सीएम योगी आदित्याथ का हमारे राज्य में स्वागत करता हूं। आप यहां बहुत सी बातें हम लोगों से सीख सकते हैं। आप यहां कृपया इंदिरा कैंटीन और राशन की दुकान पर जरूर जाइएगा। ऐसा करने से आपके राज्य में भूख से हो रही मौतों से निपटने में आपको मदद मिलेगी।’ इस पर महज चार घंटे बाद यूपी सीएम ने तंज कसते हुए ट्वीट किया, ‘सिद्धारमैया जी, स्वागत के लिए धन्यवाद। मैंने सुना है कि आपके कार्यकाल के दौरान राज्य में सबसे ज्यादा किसानों ने आत्महत्या की। बहुत से ईमानदार अधिकारियों का तबादला किया गया। उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री होने के नाते मैं आपके सहयोगी दलों द्वारा फैलाए गए दुख और अनैतिक माहौल को कम करने के लिए लगातार काम कर रहा हूं।’

योगी आदित्यनाथ रविवार को कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता येदियुरप्पा की रैली में शामिल हुए थे। जहां उन्होंने सीएम सिद्धारमैया पर तीखा हमला बोला था। आदित्यनाथ ने बेंगलुरु में आयोजित रैली में सिद्धारमैया के हिंदू होने पर सवाल उठाया। योगी ने कहा कि अगर सिद्धारमैया हिंदू हैं तो गोमांस खाने वालों की वकालत क्यों करते हैं? आदित्यनाथ ने कहा- मैंने ऐसे समाचार देखे हैं जिनमें मुख्यमंत्री सिद्धारमैया खुद को हिंदू बता रहे थे। आपकी (बीजेपी समर्थकों) की ताकत को देखकर वह भी उसी राह पर चल पड़े हैं, जिस पर गुजरात चुनाव से पहले राहुल गांधी चले। योगी ने कहा- हिंदुत्व जीने की एक शैली है। इसे धर्म, जाति, श्रद्धा और प्रार्थना से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। हिंदुत्व गोमांस खाने की वकालत नहीं करता है। मैं मुख्यमंत्री से पूछना चाहता हूं कि अगर वह हिंदू हैं और हिंदुत्व का समर्थन करते हैं, तो क्या गोमांस खाने को समर्थन देकर सही कर रहे हैं?

योगी ने सूबे की कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए कहा था कि जब बीजेपी की सरकार थी तब पार्टी गायों की हत्या पर पूरी तरह से बैन लगाने के लिए बिल लाई थी। कांग्रेस ने बिल पास नहीं होने दिया। उन्होंने धर्म के नाम पर बांटने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस के भ्रष्टाचार और उसकी विभाजनकारी नीतियों के कारण वह देश पर बोझ बन गई है। बता दें कि राज्य में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.