ताज़ा खबर
 

जिनके पास TV, फ्रिज और 5 एकड़ जमीन, वे सरेंडर करें BPL राशन कार्ड वरना लेंगे ऐक्शन- बोली BJP शासित कर्नाटक सरकार

कांग्रेस ने मंत्री के इस बयान की आलोचना की और पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बेंगलुरु में विभिन्न राशन दुकानों के सामने प्रदर्शन किया।

karnataka, bplकर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा। फाइल फोटो। फोटो सोर्स – एक्सप्रेस अर्काइव

कर्नाटक सरकार ने दो पहिया वाहन, टीवी, फ्रिज या पांच एकड़ से ज्यादा जमीन के स्वामित्व वाले बीपीएल राशन कार्ड धारकों से 31 मार्च तक इसे वापस करने या कानूनी कार्रवाई का सामना करने के लिए तैयार रहने को कहा है। खाद्य और आपूर्ति मंत्री उमेश कट्टी ने बेलगावी में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे के लोगों के लिए) कार्ड रखने को लेकर कुछ मापदंड हैं। उनके पास पांच एकड़ से ज्यादा जमीन, मोरसाइकिल, टीवी या फ्रीज नहीं होने चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जो लोग इन मापदंडों पर खरा नहीं उतरते हैं उन्हें कार्ड वापस कर देना चाहिए अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।’’

मंत्री ने कहा कि सालाना 1.20 लाख रुपये से ज्यादा कमाने वालों को बीपीएल कार्ड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए और इसे 31 मार्च के पहले वापस कर देना चाहिए। कांग्रेस ने मंत्री के इस बयान की आलोचना की और पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बेंगलुरु में विभिन्न राशन दुकानों के सामने प्रदर्शन किया। कांग्रेस के एक नेता ने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ताओं ने धारवाड़, मैसुरु और तुमकुरु में भी पदर्शन किया।

कांग्रेस विधायक टी टी खादर ने कहा कि जब इन सामानों के लिए ब्याजमुक्त कर्ज का प्रस्ताव दिया जाएगा तो स्वाभाविक है कि लोग इसकी खरीदारी करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार का यह फैसला ‘जनविरोधी’ है और ‘बीपीएल कार्ड छीनने’ के बजाए और लाभार्थियों की पहचान पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए।

आपको याद दिला दें कि इससे पहले पिछले साल जून के महीने में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने आदेश दिया था कि राज्य में गैरकानूनी राशन कार्ड रद किए जाएं। उन्होंने कहा था कि सरकारी कर्मचारी और जिनके पास कोई वाहन है, वो तुरंत बीपीएल राशन कार्ड वापस करें। सीएम ने फूड एंड सिविल सप्लाइड डिपार्टमेंट को आदेश दिया था कि सरकारी कर्मचारी और जिनके पास ट्रैक्टर या अन्य कोई वाहन है उनसे गरीबी रेखा से नीचे के राशन कार्ड तुरंत वापस लिए जाएं। इस प्रक्रिया में विफल होने पर कठोर कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी।

Next Stories
1 बंगालः BJP के घोष बोले- TMC संभाल ले बच्चा, वरना न देख पाएंगे चेहरा, टीएमसी का पलटवार- उधेड़ देंगे चमड़ी
2 ABP-C Voter Survey: बंगाल में CM के लिए ममता 52% की पहली पसंद, पर 40% दीदी के गुस्से में चाहते हैं बदलाव
3 किसान आंदोलन में शराब दान करें कार्यकर्ता, कांग्रेस नेत्री विद्या रानी का वीडियो वायरल
ये पढ़ा क्या?
X