ताज़ा खबर
 

दिल्लीः स्पीकर का ऐक्शन, AAP के बागी विधायक कपिल मिश्रा की सदस्यता रद्द

आम आदमी पार्टी के बागी विधायक कपिल मिश्रा को अयोग्य करा दे दिया गया है। न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने दलबदल कानून के तहत यह फैसला सुनाया।

आम आदमी पार्टी के बागी कपिल मिश्रा अब विधायक नहीं रहे। फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस

दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (AAP) के बागी विधायक कपिल मिश्रा की सदस्यता रद्द कर दी गई है। विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने दलबदल कानून के यह कार्रवाई की और कपिल मिश्रा की सदस्यता रद्द कर दी। गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के एक अन्य विधायक सौरभ भारद्वाज ने कपिल मिश्रा के खिलाफ याचिका दायर की थी।

दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं कपिल: बता दें कि दिल्ली सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके कपिल मिश्रा सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ लगातार मोर्चा खोले हुए थे। वह केजरीवाल पर कई तरह की अनियमितताओं के आरोप लगा चुके हैं। इसके बाद कपिल मिश्रा ने 2019 लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पक्ष में प्रचार भी किया था।

National Hindi News, 02 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक 

स्पीकर ने जारी किया लेटर: कपिल मिश्रा को अयोग्य साबित करने को लेकर दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष राम निवास गोयल की ओर से प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई है। उन्होंने यह कार्रवाई सौरभ भारद्वाज की याचिका पर की। विज्ञप्ति में बताया गया है, ‘‘नेशनल कैपिटल टेरिटरी ऑफ दिल्ली की करावल नगर विधानसभा नंबर-70 से विधायक श्री कपिल मिश्रा को संविधान के 10वें शेड्यूल के दूसरे पैराग्राफ के तहत अयोग्य करार दिया जाता है। कपिल मिश्रा की अयोग्यता 27 जनवरी 2019 से लागू होगी। ऐसे में करावल नगर विधानसभा सीट खाली हो गई है।’’

कपिल मिश्रा ने किया यह ट्वीट: स्पीकर द्वारा अयोग्य साबित किए जाने के बाद कपिल मिश्रा ने ट्वीट भी किया। उन्होंने लिखा, ‘‘मोदी जी के लिए अभियान चलाने पर एक क्या सौ बार विधायक की कुर्सी कुर्बान। एक तरफ देशभक्त और एक तरफ टुकड़े-टुकड़े गैंग। मैं सारी दिल्ली के साथ खड़ा था। अभी ‘सातों सीटें मोदी को” अभियान चलाया। विधानसभा चुनाव में ‘साठ सीटें मोदी को’ अभियान चलाऊंगा।’’

Next Stories
1 उन्नाव रेप पीड़िता और उसके परिवार की व्यथा योगी सरकार को लज्जित करने वाली, SC के फैसले पर बोलीं मायावती
2 मिलावटखोरों के खिलाफ रासुका लगाने वाले डीएम सम्मानित, मंत्री ने खुद पहनाई माला
3 हार पर आत्मविश्लेषण करे विपक्ष, EVM को दोष नहीं दे: फडणवीस की विपक्षी पार्टियों को नसीहत
ये पढ़ा क्या?
X