kanpur temple use ac cooler priest said gods too feel hot like us - मंदिर के अंदर एसी, कूलर पर पुजारी का तर्क- भगवान को भी लगती होगी गर्मी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मंदिर के अंदर एसी, कूलर पर पुजारी का तर्क- भगवान को भी लगती होगी गर्मी

पुजारियों का कहना है कि यूं तो परमात्मा प्रकृति से परे हैं और प्रकृति के नियम उन पर लागू नहीं होते, लेकिन भक्त की आराधना, उपासना और भक्ति भाव के तहत भगवान के लिए भी एसी कूलर की व्यवस्था की जाती है।

कानपुर के मंदिर में लगाए गए हैं एसी और कूलर। (image source-ANI)

गर्मी का कहर जारी है और दिनों-दिन तापमान बढ़ता जा रहा है। अब इस बढ़ती गर्मी से इंसानों के साथ-साथ भगवान भी परेशान हैं। जी हां, इस खबर की मानें तो भगवान को भी इंसानों की तरह गर्मी लगती है और इससे बचाव के लिए मंदिरों में एसी और कूलर की व्यवस्था की जा रही है। मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर का है, जहां के एक मंदिर में एसी और कूलर लगाए गए हैं। जब इस संबंध में मंदिर के पुजारी से सवाल किया गया तो पुजारी ने बताया कि श्रद्धालुओं के कहने पर मंदिर में एसी और कूलर की व्यवस्था की गई है। पुजारी ने बताया कि श्रद्धालुओं का कहना है कि भगवान को भी हमारी तरह गर्मी लगती होगी, ऐसे में हमें कुछ करना चाहिए। जिसके बाद ही मंदिर में एसी और कूलर लगाया गया है।

बता दें कि कानपुर के इस मंदिर की तरह ही अयोध्या के मंदिरों में भी भगवान को गर्मी से बचाने के लिए गर्भगृह में एसी और कूलर लगाए गए हैं। जब भगवान को गर्मी लगाने का सवाल किया गया तो पुजारियों का कहना है कि यूं तो परमात्मा प्रकृति से परे हैं और प्रकृति के नियम उन पर लागू नहीं होते, लेकिन भक्त की आराधना, उपासना और भक्ति भाव के तहत भगवान के लिए भी एसी कूलर की व्यवस्था की जाती है। इतना ही नहीं कई मंदिरों में तो गर्मियों के मौसम में पूरी दिनचर्या ही बदल जाती है। गर्मियों में भगवान को रोज ठंडे पानी से नहलाकर हल्के वस्त्र पहनाए जाते हैं और पूजा के लिए भी ठंडे फल जैसे अमरूद, आम, अनार आदि का भोग लगाया जाता है। साथ ही कड़ी धूप निकलते ही मंदिरों में भगवान के दर्शन भी बंद कर दिए जाते हैं।

वहीं तमिलनाडु के मशहूर और प्राचीन मंदिर श्री मीनाक्षी सुंदरेश्वर मंदिर में इन एसी और कूलरों के कारण गंभीर समस्या खड़ी हो गई थी। दरअसल साल 2010 में इस मंदिर में 30 लाख रुपए लगाकर सेंट्रल एसी की व्यवस्था की गई थी, ताकि मंदिर के पुजारियों और श्रद्धालुओं को गर्मी और उमस से राहत मिल सके, लेकिन इस सेंट्रल एसी के कारण मंदिर में सीलन की समस्या उत्पन्न हो गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App