ताज़ा खबर
 

रेड की भनक लगते ही विकास दुबे ने जमा कर लिए थे 25-30 लोग, की अंधाधुंध फायरिंग, गिरफ्तार साथी ने बताई पूरी कहानी

विकास दुबे के साथी ने बताया कि इससे पहले की पुलिस उसे गिरफ्तार करने आती, पुलिस स्टेशन से उसे एक फोन आया। इसके बाद उसने करीब 25-30 लोगों को इकट्ठा किया।

crime news, UP Crimeविकास दुबे का साथी दया शंकर। (ANI)

यूपी पुलिस ने कुख्यात अपराधी और आठ पुलिसकर्मियों के हत्यारे विकास दुबे के साथी दया शंकर अग्निहोत्री को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में उसने चौंकाने वाला खुलासा किया है। अग्निहोत्री ने बताया कि इससे पहले की पुलिस विकास दुबे को गिरफ्तार करने आती, पुलिस स्टेशन से उसे एक फोन आया। इसके बाद उसने करीब 25-30 लोगों को इकट्ठा किया।

अग्निहोत्री के अनुसार पुलिस रेड मारने आई तो उनपर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। मुठभेड़ के समय में अपने घर में बंद था इसलिए कुछ नहीं देखा। इधर मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अग्निहोत्री के पैर में भी गोली लगी है। उसने बताया कि मेरी बंदूक छीनकर विकास दुबे ने पुलिसकर्मियों पर गोली चलाई थी। दयाशंकर विकास दुबे के घर की नौकरानी का पति है।

आपको बता दें कि कानपुर मुख्यालय से 45 किलोमीटर दूर बिकरू गांव में बीते शुक्रवार को एक मुठभेड़ में पुलिस उपाधीक्षक समेत आठ पुलिसर्किमयों के मारे जाने के बाद प्रशासन ने शनिवार को कुख्यात अपराधी विकास दुबे के किलेनुमा घर को ढहा दिया। अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को विकास दुबे के बिकरू स्थित घर को जेसीबी की मदद से गिरा दिया गया । इस दौरान वहां खड़े वाहनों को भी नष्ट कर दिया गया।

Bihar Election 2020 Live Updates

इस मौके पर वहां भारी संख्या में पुलिसकर्मी मौजूद थे। दुबे के घर का भारी भरकम दरवाजा और बरामदा और चहारदीवारी को जेसीबी मशीन की मदद से एक झटके में जमींदोज कर दिया गया। पुलिस द्वारा विकास दुबे का घर गिराए जाने की बाबत सवाल पूछे जाने पर कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया, ‘गांव के लोगों का कहना था कि दुबे ने दबंगई और गुंडागर्दी से लोगों की जमीन पर कब्जा किया था और लोगों से जबरन वसूली कर घर बनाया था। गांव में यह अपराध का गढ़ था, गांव वालो में उसके प्रति बहुत गुस्सा था।’

पुलिस सूत्रों ने बताया कि मुठभेड़ के पहले चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी कुछ पुलिसर्किमयों के साथ दुबे के घर गये थे और राहुल तिवारी नामक व्यक्ति से उसका समझौता कराने का प्रयास कर रहे थे। राहुल वही व्यक्ति है जिसने दुबे के खिलाफ मामला दर्ज कराया था और उसी वजह से पुलिस ने दुबे के घर दबिश दी थी। (एजेंसी इनपुट)

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Bihar Election: बिहार में राजग में कोई दरार नहीं, कांग्रेस-राजद अफवाह फैला रहे हैं: नित्यानंद राय
2 Bihar, Jharkhand Coronavirus : 73.90 प्रतिशत है बिहार का रिकवरी रेट, अबतक 2,57,896 टेस्टट्यूब सैम्पल की जांच हुई
3 खौफ में विकास दुबे के गांव के लोग, 80% घरों में लगा ताला, गांव छोड़ भागे रहवासी, दहशत में नही जला चूल्हा
ये पढ़ा क्या?
X