ताज़ा खबर
 

Kanpur Encounter में बड़ा खुलासा, हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को दारोगा ने ही दी थी रेड की सूचना, CDR में कई पुलिसवालों के नंबर

एसआईटी ने विकास दुबे के कॉल डिटेल्स रिकॉर्ड के आधार पर अब तक 12 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है, सभी से पूछताछ हो रही है।

Encounter in Kanpur, up police, vikas dubeyविकास दुबे और उसके गुर्गों के साथ मुठभेड़ मे मारे गए पुलिसकर्मियों के साथ बर्बरता की हद पार की गई। (पीटीआई फोटो)

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक दिन पहले ही हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस की एक टीम की अपराधियों ने घेर कर हत्या कर दी थी। इस घटना के बाद पुलिस ने विकास दुबे को पकड़ने के लिए खोजबीन तेज कर दी है। स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम इस इस मामले की गहराई से छानबीन कर रही है कि आखिर कैसे विकास दुबे के घर पर दबिश देने गई टीम पर अपराधियों ने साजिश बनाकर हमला कर दिया। एसआईटी ने विकास दुबे के कॉल डिटेल्स रिकॉर्ड निकलवाए हैं, जिसमें कई पुलिसवालों के नंबर निकले हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन पुलिसवालों में एक नाम चौबेपुर थाने के दरोगा का भी है, जिसने विकास को रेड की सूचना पहले ही दे दी थी।

इस वक्त एसआईटी को विकास दुबे के संपर्क में रहने वाले एक दरोगा, एक सिपाही और एक होमगार्ड पर शक है। तीनों से ही पूछताछ की जा रही है। पुलिस अब तक 8 पुलिसकर्मियों के मारे जाने के मामले में 12 लोगों को हिरासत में ले चुकी है। इन सभी को विकास दुबे के कॉल डिटेल रिकॉर्ड के आधार पर उठाया गया है। इन सभी लोगों की पिछले 24 घंटे में विकास से बात हुई थी।

एसआईटी और पुलिस की टीम लगातार विकास दुबे को खोजने में जुटी हैं। हालांकि, घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद भी उसका और पुलिसकर्मियों को मारने वाले उसके गिरोह के लोगों का पता नहीं चल पाया है। पुलिस की करीब 20 टीमें अभी अलग-अलग जिलों में उसकी तलाश में जुटी हैं। एक टीम लखनऊ स्थित उसके घर पर भी डटी हुई है। पुलिस ने उसके ऊपर 50 हजार रुपए का इनाम भी रखा है। अब तक विकास समेत 35 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई है।

गौरतलब है कि कानपुर के चौबेपुर स्थित बिकारू गांव में शुक्रवार सुबह पुलिस की एक टीम विकास दुबे को हत्या की कोशिश से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार करने गई थी। यहां उसके गिरोह से जुड़े लोगों ने साजिशन जेसीबी अड़ा कर पुलिसकर्मियों को गाड़ी से उतरने पर मजबूर कर दिया और बाद में उनकी गोली मारकर हत्या कर दी। घटना में 7 पुलिसवाले घायल भी हुए थे। पुलिसकर्मियों की मौत के बाद यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर गुस्सा जताते हुए डीजीपी एचसी अवस्थी को अपराधियों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं। सीएम ने इस घटना की रिपोर्ट भी मांगी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 किले से कम नहीं हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे का घर, 50 सीसीटीवी, 30 फीट की दीवार और कंटीले तार की घेराबंदी; यूँ की थी वारदात की प्लानिंग
2 यूपी पुलिस के हज़ार जवान-अफ़सरों को अकेले डकैत ने तीन दिन पिलाया था पानी, जानिए कुछ ‘असली’ मुठभेड़ों की कहानी
3 जान बचाने के लिए जिस घर में घुसे थे CO वो घर विकास के मामा का निकला; सिर दीवार में सटाकर गोली मारी, फिर कुल्हाड़ी से काट दिया था पैर
ये पढ़ा क्या?
X