ताज़ा खबर
 

डर कर बीच मुठभेड़ मैदान छोड़ गया था यह SHO, हुआ सस्पेंड; विकास दुबे के गुंडों से लोहा लेते आठ साथी हुए थे शहीद

बृहस्पतिवार देर रात कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के गांव बिकरू निवासी कुख्यात अपराधी विकास दुबे को उसके गांव पकड़ने पहुंची पुलिस टीम पर हमला कर दिया गया था जिसमें एक क्षेत्राधिकारी, एक थानाध्यक्ष समेत आठ पुलिस कर्मी मारे गए थे।

Kanpur, Vikas Dubeyकानपुर एनकाउंटर मामले की जांच के दौरान पुलिस की टीम। (फोटो-सोशल मीडिया)

कानपुर एनकाउंटर मामले में एक एसएचओ को सस्पेंड कर दिया गया है। आरोप है कि मुठभेड़ के दौरान यह पुलिसकर्मी घटनास्थल से डरकर भाग गया था। कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि स्थानीय थानाध्यक्ष को सस्पेंड कर दिया गया है। एनकाउंटर के समय पर वहां से भाग निकले थे। अगर वह बदमाशों का डटकर मुकाबला करते तो शायद स्थिति कुछ और होती।

इससे पहले कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने पत्रकारों को बताया, ” थानाध्यक्ष विनय तिवारी के ऊपर लग रहे आरोपों के बाद उन्हें निलंबित कर दिया गया है। इन आरोपों की जांच की गहन तरीके से जांच की जा रही है। अगर उनका या किसी भी पुलिसकर्मी का इस घटना से कोई संबंध निकला तो उसे न केवल बर्खास्त किया जाएगा बल्कि जेल भी भेजा जाएगा।’’

पुलिस द्वारा विकास दुबे का घर गिराये जाने के बारे में पूछे जाने पर अग्रवाल ने कहा, ”गांव के लोगों का कहना है कि दुबे ने दबंगई और गुंडागर्दी से लोगों की जमीन पर कब्जा किया था और लोगो से वसूली कर घर बनाया था। गांव में यह अपराध का गढ़ था जिससे गांव वालों में उसके प्रति बहुत गुस्सा था। पुलिस ने बताया कि विकास दुबे और उसके सहयोगियों को पकड़ने के लिये पुलिस की 25 टीमें लगायी गयी हैं जो प्रदेश के विभिन्न जिलों के अलावा कुछ दूसरे प्रदेशों में भी छापेमारी कर रही हैं।

गौरतलब है कि बृहस्पतिवार देर रात कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के गांव बिकरू निवासी कुख्यात अपराधी विकास दुबे को उसके गांव पकड़ने पहुंची पुलिस टीम पर हमला कर दिया गया था जिसमें एक क्षेत्राधिकारी, एक थानाध्यक्ष समेत आठ पुलिस कर्मी मारे गए थे। मुठभेड़ में पांच पुलिसकर्मी, एक होमगार्ड और एक आम नागरिक घायल है।

पहली मुठभेड़ में अपराधी पुलिसकर्मियों के हथियार भी छीन ले गये, जिनमें एके-47 रायफल, एक इंसास रायफल, एक ग्लाक पिस्टल तथा दो नाइन एमएम पिस्टल शामिल हैं। इस मुठभेड़ के कुछ घंटे बाद हुई दूसरी पुलिस मुठभेड़ में पुलिस ने दो अपराधियों को मार गिराया था और उनके पास से लूटी गयी एक पिस्टल भी बरामद की थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Kanpur Shootout: जिस JCB से विकास दुबे ने रोका था पुलिस का रास्ता, उसी से मलबे में मकान तब्दील; बैंक खाता भी सील, परिजन पर फूटा ग्रामीणों का गुस्सा
2 महाराष्ट्र: कर्मचारियों की सैलरी के पैसे नहीं, मंत्रियों के लिए लग्जरी कारों का ऑर्डर
3 Kanpur Shootout Case: मुखबिरी के शक पर चौबेपुर थाना SHO विनय तिवारी सस्पेंड, FIR भी हो सकती है दर्ज
ये पढ़ा क्या?
X